जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय। Jagdeep Dhankhar Biography In Hin

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय। Jagdeep Dhankhar Biography in Hindi

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय ,जाति ,पत्नी ,करियर ,उम्र , शादी, भारत के 14वे उपराष्ट्रपति ( agdeep Dhankhar biography in hindi ,vice president of india, vice president of india 2022 (son, family, wife )

NDA के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ को 06 अगस्त 2022 को भारत के 14वे उपराष्ट्रपति के रूप में चुना गया है।

जगदीप धनखड़ भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और पश्चिम बंगाल राज्य के वर्तमान राज्यपाल के रूप में कार्य करते हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी के उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार के रूप में जगदीप धनखड़ के नाम की घोषणा की। 

जेपी नड्डा ने घोषणा की, “भारत के उपराष्ट्रपति पद के लिए एनडीए के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ होंगे।” जगदीप वर्तमान में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल हैं। उन्हें टीएमसी और पश्चिम बंगाल सरकार का विरोध करने के लिए जाना जाता है।

पश्चिम बंगाल के वर्तमान राज्यपाल जगदीप धनखड़ 6 अगस्त 2022 को होने वाले उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए के उम्मीदवार हैं।

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय। Jagdeep Dhankhar Biography in Hindi
जगदीप धनखड़

जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय

नाम ( name)जगदीप धनखड़
प्रसिद्दि (Famous For )भारत के 14वे उपराष्ट्रपति
जन्म तारीख (Date of birth)18 मई 1951
उम्र( Age)71 साल (साल 2022 )
जन्म स्थान (Place of born )किठाना गांव, झुंझुनू जिला, राजस्थान
शिक्षा (Education )लॉ ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट
स्कूल (School )सरकारी प्राथमिक विद्यालय, किठाना गांव
सरकारी मिडिल स्कूल, घरधाना
सैनिक स्कूल ,चित्तौड़गढ़
कॉलेज (Collage )महाराजा कॉलेज, जयपुर
राजस्थान विश्वविद्यालय
गृहनगर (Hometown)किठाना गांव, झुंझुनू जिला, राजस्थान
नागरिकता(Nationality)भारतीय
धर्म (Religion)हिन्दू धर्म
जाति (Cast )जाट
पेशा (Occupation)राजनीतिज्ञ
राजनैतिक पार्टी (Party )भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)
लम्बाई (Height )5 फ़ीट 10 इंच
वजन (Weight )72 किलो
आँखों का रंग (Eye Color)काला
बालो का रंग (Hair Color )काला
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)  शादीशुदा

जगदीप धनखड़ का जन्म एवं शुरुआती जीवन

जगदीप धनखड़ का जन्म 18 मई 1951को किठाना गांव, झुंझुनू जिला, राजस्थान में हुआ था। जगदीप एक जाट परिवार से ताल्लुक रखते है.

उनके पिता का नाम चौ. गोकल चंद एवं माँ का नाम श्रीमती केसरी देवी है और दोनों का निधन हो चुका है. जगदीप के बड़े भाई का नाम कुलदीप धनखड़ है जिनकी शादी श्रीमती सुचेता से हुई है।

जगदीप के परिवार में 4 भाई बहन है.उनके छोटे भाई का नाम रणदीप धनखड़ है जिनकी शादी श्रीमती सरोज से शादी की।उनकी एक बहन भी है जिसका नाम इंद्रा है और उनकी बहन की शादी श्री धर्म पाल डूडी से हुई है

जगदीप धनखड़ की शिक्षा

जगदीप धनखड़ की प्रारंभिक शिक्षा कक्षा 1 से 5 तक सरकारी प्राथमिक विद्यालय, किठाना गांव में हुई और उसके बाद  कक्षा 6 में उन्होंने 4-5 किलोमीटर की दूरी पर सरकारी मिडिल स्कूल, घरधाना में प्रवेश लिया और स्कूल दूर होने के कारन वह गाँव के अन्य छात्रों के साथ स्कूल तक पैदल यात्रा करते थे । 

साल 1962 में उन्होंने सैनिक स्कूल से भी अपनी शिक्षा प्राप्त की है । उनके बड़े भाई कुलदीप धनखड़ ने भी अपनी पढाई पूरी करने के लिए उसी स्कूल में दाखिला लिया था ।

उसके बाद अपनी आगे की पढाई पूरी करने के लिए उन्होंने राजस्थान विश्वविद्यालय से संबद्ध प्रतिष्ठित महाराजा कॉलेज, जयपुर में 3 साल के बीएससी (ऑनर्स) भौतिकी की पढाई करने के लिए में प्रवेश लिया और वहां से स्नातक की उपाधि प्राप्त की।

उसके बाद उन्होंने  राजस्थान विश्वविद्यालय में एलएलबी की पढाई करने के लिए दाखिला लिया और वर्ष 1978-1979 में एलएलबी की डिग्री हासिल की।

जगदीप धनखड़ का परिवार

पिता का नामस्वर्गीय श्री चौ. गोकल चंद 
माता का नामस्वर्गीय श्रीमती केसरी देवी
भाई (Brother )कुलदीप धनखड़ (बड़ा )
रणदीप धनखड़(छोटा )
बहन (Sister )इंद्रा धनखड़
पत्नी का नाम (Wife )सुदेश धनखड़
बच्चो के नाम (Children )1 बेटी  : कामना धनखड़
दामाद का नाम (Son in Law )कार्तिकेय वाजपेयी

जगदीप धनखड़ की शादी ,पत्नी

जगदीप धनखड़ की पत्नी का नाम सुदेश धनखड़ है, जो वर्ष 1979 में ग्रामीण परिवेश के एक प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय बनस्थली विद्यापीठ से अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर हैं। वह श्री होशियार सिंह और श्रीमती की बेटी हैं।

 श्रीमती सुदेश धनखड़ की सामाजिक कार्य और जैविक खेती, बाल शिक्षा और उत्थान में गहरी रुचि है। वे एक परिवार के रूप में यात्रा करना पसंद करते हैं और एक साथ मालदीव और कई अन्य स्थानों पर गए हैं।

जगदीप धनखड़ की बेटी

  • धनखड़ का कोई बेटा नहीं है, उनकी एक ही बेटी है और उसका नाम कामना है। कामना ने एमजीडी स्कूल, जयपुर से पढ़ाई की है, और उसके बाद मेयो गर्ल्स, अजमेर में, संयुक्त राज्य अमेरिका में बीवर कॉलेज (अब अर्काडिया विश्वविद्यालय) से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। 
  • उसके पास यूके, इटली और ऑस्ट्रेलिया में समर कोर्स थे। वह अंग्रेजी, हिंदी और इतालवी में धाराप्रवाह है, इतालवी दूतावास, नई दिल्ली और फिर इटली में एक संस्थान रोम में इटालियन भाषा भी सीखी है।
  • धनखड़ की बेटी कामना किशादी स्वर्गीय श्री विजय शंकर वाजपेयी एवं आभा वाजपेयी के बेटे कार्तिकेय वाजपेयी से हुई है।
  • कार्तिकेय ने आईटीसी से कैंपस प्लेसमेंट किया था। लगभग 5 वर्षों तक आईटीसी की सेवा करने के बाद, कार्तिकेय ने कानूनी पेशे में कदम रखा है और वर्तमान में सर्वोच्च न्यायालय में एक वकील हैं।
  • कामना और कार्तिकेय को 14 अगस्त, 2015 को कविश नामक पुत्र का आशीर्वाद प्राप्त है। वह गुड़गांव के श्रीराम स्कूल में दाखिल है।

जगदीप धनखड़ की राजनैतिक यात्रा

  • भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने से पहले, वह 1989 से 1991 तक राजस्थान के झुंझुनू से सांसद थे। वह जनता दल के सदस्य भी थे। धनखड़ 1993 से 1998 के बीच राजस्थान के किशनगढ़ से विधान सभा के सदस्य भी रहे।
  • साल 1989 में झुंझुनू संसदीय क्षेत्र से 9वीं लोकसभा के लिए चुने गए। साल 1990 में एक संसदीय समिति के अध्यक्ष चुने गए।
  • उसके बाद साल 1990 में केंद्रीय मंत्री। और 1993-1998 में अजमेर जिले के किशनगढ़ निर्वाचन क्षेत्र से राजस्थान विधान सभा के लिए चुने गए।
  • राजस्थान राज्य में जाट समुदाय सहित अन्य पिछड़े वर्गों को ओबीसी का दर्जा देने में शामिल था।भारत के माननीय राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविंद ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 155 के तहत 20 जुलाई, 2019 को श्री जगदीप धनखड़ को पश्चिम बंगाल का राज्यपाल नियुक्त करते हुए वारंट जारी किया।
  • कलकत्ता उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश माननीय श्री थोट्टाथिल बी. नायर राधाकृष्णन ने 30 जुलाई, 2019 को राजभवन, कोलकाता में श्री जगदीप धनखड़ को पद की शपथ दिलाई।
  • लोकसभा और राजस्थान विधानसभा दोनों में, वह महत्वपूर्ण समितियों का हिस्सा थे। वह केंद्रीय मंत्री रहते हुए यूरोपीय संसद में एक संसदीय समूह के उप नेता के रूप में एक प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा थे।
  • तब से, उनका सीएम ममता बनर्जी और टीएमसी के साथ तीखा संबंध रहा है। जहां तृणमूल कांग्रेस उन्हें पश्चिम बंगाल में भाजपा का एजेंट कहती है, वहीं भगवा पार्टी उन्हें संविधान का रक्षक कहती है।
  • जगदीप ने कई मुद्दों पर जानकारी देते हुए पश्चिम बंगाल सरकार को फटकार लगाई है. दोनों पक्षों के बीच ताजा विवाद मुख्यमंत्री को राज्य के विश्वविद्यालयों का वास्तविक प्रमुख बनाने का मुद्दा था। 
  • उन्होंने इस फैसले के लिए राज्य सरकार की काफी आलोचना की थी. धनखड़ राज्य सरकार पर राज्य में राजनीतिक हिंसा को बढ़ावा देने का भी आरोप लगाते रहते हैं. और वे समय-समय पर ममता बनर्जी पर तीखे हमले करते रहते हैं

जगदीप धनखड़ भारत के 14वे उपराष्ट्रपति के रूप में

पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ शनिवार को भारत के 14 वें उपराष्ट्रपति के रूप में चुने गए। भारत के अगले उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान सुबह 10 बजे शुरू हुआ, जिसमें प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी सबसे पहले वोट डालने वालों में से थे। 

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह व्हीलचेयर पर पहुंचे और खड़े होने और वोट डालने के लिए समर्थन की जरूरत थी। सीपीएम सांसद जॉन ब्रिटास उन लोगों में शामिल थे जिन्होंने अपने मताधिकार का प्रयोग करने में दिग्गज नेता की मदद की।

 दो बार के प्रधानमंत्री ने हाथ जोड़कर उपस्थित लोगों का अभिवादन किया। गृह मंत्री अमित शाह और शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान उन नेताओं में शामिल थे जो संसद भवन में जल्दी पहुंचे।

उन्हें प्रधानमंत्री द्वारा ‘किसान पुत्र’ और भाजपा प्रमुख द्वारा ‘जनता का राज्यपाल’ बताया गया

FAQ

जगदीप धनखड़ कौन है?

NDA के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ को 06 अगस्त 2022 को भारत के 14वे उपराष्ट्रपति के रूप में चुना गया है। इसके अलावा जगदीप धनखड़ भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और पश्चिम बंगाल राज्य के वर्तमान राज्यपाल के रूप में कार्य करते हैं।

जगदीप धनखड़ की बेटी कौन है?

धनखड़ का कोई बेटा नहीं है, उनकी एक ही बेटी है और उसका नाम कामना है। कामना ने एमजीडी स्कूल, जयपुर से पढ़ाई की है,

जगदीप धनखड़ की पत्नी कौन है?

जगदीप धनखड़ की पत्नी का नाम सुदेश धनखड़ है, जो वर्ष 1979 में ग्रामीण परिवेश के एक प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय बनस्थली विद्यापीठ से अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर हैं। वह श्री होशियार सिंह और श्रीमती की बेटी हैं।

जगदीप धनखड़ के कितने भाई बहन है?

जगदीप के परिवार में 4 भाई बहन है जिनमे 2 भाई कुलदीप धनखड़ (बड़ा )
रणदीप धनखड़(छोटा ) और एक बहन इंद्रा शामिल है.

जगदीप धनखड़ की जाति क्या है?

जाट

यह भी देखे :-

अंतिम कुछ शब्द –

दोस्तों मै आशा करता हूँ आपको ” जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय। Jagdeep Dhankhar Biography in Hindi”वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हे तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आपसे एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद

283272931b5637e84fd56e27df3beb17?s=250&d=mm&r=g

1 thought on “जगदीप धनखड़ का जीवन परिचय। Jagdeep Dhankhar Biography in Hindi”

  1. आपको धनखड़ जी के जाति में हिंदू लिखना चाहिए।क्योंकि हजारों साल से हिंदू जाति को विभाजित करने का कुत्सित प्रयास जारी है।

Comments are closed.