सिद्धू मूसे वाला का जीवन परिचय,हत्या | Sidhu Moose Wala Biog

सिद्धू मूसे वाला का जीवन परिचय,हत्या | Sidhu Moose wala Biography ,Death in hindi

सिद्धू मूसे वाला का जीवन परिचय,हत्या ,निधन ,मौत ,गाने ,परिवार,सिद्धू मूसे वाला की हत्या की वजह ( Sidhu Moosewala Biography ,Sidhu Moose Wala’s death reason ,Family ,sidhu moose wala news in hindi)

सिद्धू मूसेवाला उर्फ़ शुभदीप सिंह सिद्धू एक पंजाबी गायक, गीतकार, मॉडल थे जो ‘सो हाई’ गाना गाकर चर्चा में आए थे ।सिद्दू मूसेवाला की 29 मई 2022 में गोली मारकर हत्या कर दी गयी उनके गाड़ी पर 30 से ज्यादा फायर किये गए जिसमे से कम से कम 5 गोलिये उनकी छाती में जा लगी ।

सिद्धू मूसे वाला की हत्या का जिम्मा लॉरेंस बिश्नोई एवं उनकी गैंग द्वारा लिया है। जानें कौन है लॉरेंस बिश्नोई ?

कुछ समय के बाद कनाडा में रहने वाले भारतीय मूल के निवासी गोल्डी बराड़ ने मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है। जानें कौन है गोल्डी बराड़ ?

गैंगस्टर गोल्डी बरार का कहना है की उन्होंने अपने दोनों भाइयो विक्रमजीत सिंह मिदूखेरा और गुरलाल बराड़ की हत्या का बदला ले लिया है।

सिद्धू मूसेवाला का जीवन परिचय,हत्या | Sidhu Moosewala Biography ,Death in hindi
Sidhu Moosewala Biography ,Death in hindi

Sidhu Moose wala Biography ,Death in hindi

Table of Contents

असली नाम (Real Name)शुभदीप सिंह सिद्धू
निक नेम (Nick Name )सिद्धू मूसेवाला, मूसेवाला
जन्मदिन (Birthday)11 जून 1993
जन्म स्थान (Birth Place)गांव मूसा वाला, मनसा, पंजाब, भारत
उम्र (Age )29 साल (मृत्यु तक )
मृत्यु की तारीख Date of Death29 मई 2022
मृत्यु का स्थान (Place of Death)पंजाब
मृत्यु का कारण (Death Cause)उनकी हत्या कर दी गई
शिक्षा (Education )इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिग्री
कॉलेज (College )गुरु नानक देव इंजीनियरिंग कॉलेज, लुधियाना, पंजाब
राशि (Zodiac)मिथुन राशि
नागरिकता (Citizenship)भारतीय
गृह नगर (Hometown)गांव मूसा वाला, मनसा, पंजाब, भारत
धर्म (Religion)सिख
जाति (Cast )जाट
लम्बाई (Height)6 फीट 1 इंच
वजन (Weight )85 किग्रा
आँखों का रंग (Eye Color)काला
बालो का रंग( Hair Color)काला
पेशा (Occupation)गायक, गीतकार, मॉडल, राजनीतिज्ञ
पहली फिल्म (Debut )गीतकार: लाइसेंस- निंजा द्वारा (2016)
गायन (युगल): गुरलेज़ अख्तर के साथ बिलोंग करदा
वैवाहिक स्थिति Marital Statusअवैवाहिक

सिद्धू मूस वाला की मौत के पीछे क्या कारण था? जानिए पूरी कहानी ( Sidhu Moose Wala’s death reason ,full story )

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या पर बड़ा खुलासा हुआ है. जानकारी के मुताबिक, सिद्धू मूसेवाला के कत्ल में AN 94 Russian Assault Rifle का इस्तेमाल हुआ था. पंजाब के गैंगवार में AN-94 का इस्तेमाल पहली बार देखने को मिला है. वहीं इस हमले में 8 से 10 हमलावर शामिल थे ऐसी जानकारी भी सामने आई है.

सिद्धू मूसे वाला  का जीवन परिचय,हत्या | Sidhu Moose wala Biography ,Death in hindi
सिद्धू मूस वाला की कार पर बुलेट के निशान

दूसरी तरफ हत्याकांड के वक्त का एक चश्मदीद अब सामने आया है. यह शख्स हमले के दौरान मौके पर मौजूद था और उसी ने मूसेवाला को गाड़ी से बाहर निकाला था. मेसी नाम के इस शख्स का दावा है कि तब तक मूसेवाला जिंदा थे.

आजतक से बातचीत में मेसी ने कहा कि जब हमलावरों ने सिद्धू मूसेवाला को गोली मारी तो सबसे पहले वह ही मौके पर पहुंचे थे. मेसी ने बताया कि मूसेवाला के साथ दो और लोग गाड़ी (महिंद्रा थार) में बैठे थे.

दूसरी तरफ हत्याकांड के वक्त का एक चश्मदीद अब सामने आया है. यह शख्स हमले के दौरान मौके पर मौजूद था और उसी ने मूसेवाला को गाड़ी से बाहर निकाला था. मेसी नाम के इस शख्स का दावा है कि तब तक मूसेवाला जिंदा थे.

मेसी ने आगे कहा कि जब हमलावरों ने सिद्धू मूसेवाला को गोली मारी तो सबसे पहले वह ही मौके पर पहुंचे थे. मेसी ने बताया कि मूसेवाला के साथ दो और लोग गाड़ी (महिंद्रा थार) में बैठे थे.

मेसी ने कहा, ‘मैंने देखा कि सिद्धू को गोलियां लगी हुई हैं. लेकिन उनकी सांस चल रही थी. मैंने सिद्धू को बाहर निकाला और दूसरी गाड़ी में बैठाया फिर हॉस्पिटल भेजा.

सिद्धू मूसेवाला पर AN-94 से हमला

ताजा जानकारी के मुताबिक, सिद्धू मूसेवाला पर AN-94 से हमला हुआ था. घटनास्थल से AN-94 राइफल की तीन गोलियां मिली हैं. यह भी पता चला है कि इस हमले में आठ से दस हमलावर शामिल थे जिन्होंने सिद्धू मूसेवाला पर ताबड़तोड़ करीब 30 से ज्यादा राउंड फायर किये थे.

सिद्धू मूसे वाला  का जीवन परिचय,हत्या | Sidhu Moose wala Biography ,Death in hindi
सिद्धू मूसेवाला की कार पर लगी गोलियां

चश्मदीद मेसी ने बताया कि गाड़ी में जो दो और लोग बैठे थे उनको भी गोली लगी थी. चश्मदीद के मुताबिक, सिद्धू की कार पर 35 से 40 राउंड फायरिंग हुई थी. वहां दीवारों पर भी गोलियों के निशान देखे जा सकते हैं.

घर से कुछ दूर हुई सिद्धू मूसेवाला की हत्या, पुलिस ने बताया आपसी रंजिश

बता दें कि सिद्धू मूसेवाला की कल 29 मई को मानसा जिले में उनके घर से कुछ किलोमीटर दूर ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

पंजाब के DGP वी. के. भावरा ने बताया था कि सिद्धू मूसेवाला जब अपने घर से निकले तब रास्ते में 2-2 गाड़ी आगे और पीछे से आईं और इनकी गाड़ी पर फायरिंग की और जब इनको अस्पताल ले जाया गया वहां उनको मृत घोषित किया गया. भावरा ने कहा था कि फिलहाल यह आपसी रंजिश का मामला लग रहा है.

जाब के DGP ने आगे बताया था कि इस घटना की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग के सदस्य लक्की ने ली है जो अभी कनाडा में है. वहीं सूत्रों के मुताबिक, बिश्नोई गैंग के विरोधी कैंप को सिद्धू मूसेवाला सपोर्ट कर रहा थे. वजह से सिद्धू मूसेवाला लॉरेंस बिश्नोई गैंग के निशाने पर थे.

DGP ने बताया कि घटनास्थल से बरामद कारतूस से अंदाजा लगा है कि हत्याकांड में 3 अलग-अलग हथियारों का इस्तेमाल हुआ था.

सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी हटने के सवाल पर DGP ने कहा कि मूसेवाला के पास पंजाब पुलिस के 4 कमांडो थे जिनमें से 2 कमांडो राज्य में चलने वाले घल्लूघारा की वजह से वापस ले लिए थे. यह जब घर से निकले तब यह अपने साथ इनको नहीं ले गए थे.

इससे पहले पुलिस अधिकारी पी. के. यादव ने बताया था कि हमलावर अपनी गाड़ी छोड़कर भाग गए थे. अब पता चला है कि उसकी नंबर प्लेट नकली थी. वहीं पुलिस को भी कुछ सुराग मिले हैं, जिनके अधार पर खोजबीन जारी है. पुलिस ने मूसेवाला हत्याकांड की जांच के लिए SIT (स्पेशल टीम) गठित की है.

सिद्धू मूसे वाला का जन्म एवं शुरुआती जीवन (Sidhu Moose wala Birth )

सिद्धू मूसे वाला का जन्म 11 जून 1993 को गांव मूसा, मानसा, पंजाब में हुआ था। सिद्धू मूसेवाला एक सिख जाट परिवार से हैं। उनके पिता का नाम भोला सिंह सिद्धू है। उनकी मां चरण कौर सिद्धू मनसा के मूसा गांव की सरपंच हैं। उनका एक छोटा भाई गुरप्रीत सिद्धू है।

सिद्धू मूसे वाला की शिक्षा (Sidhu Moose wala Education )

उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा मनसा से की और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के लिए लुधियाना के गुरु नानक देव इंजीनियरिंग कॉलेज गए। स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद, वह आगे की पढ़ाई के लिए कनाडा चले गए। 

सिद्धू का बचपन से ही गायन की ओर झुकाव था। जब वे अपनी 5वीं कक्षा में थे तब वे लोक गीत गाते थे और कॉलेज में रहते हुए विभिन्न गायन प्रतियोगिताओं में भी भाग लेते थे, लेकिन कनाडा जाने के बाद ही उन्होंने गायन में अपना करियर बनाने का फैसला किया।

सिद्धू मूसे वाला का परिवार (Sidhu Moose wala Family )

पिता का नाम (Father’s Name)भोला सिंह सिद्धू
माता का नाम (Mother’s Name)चरण कौर सिद्धू (ग्राम मूसा की सरपंच)
भाई (Brother )गुरप्रीत सिद्धू

सिद्धू मूसे वाला का करियर (Career )

संगीत

मूसेवाला ने 2016 में गीतकार के रूप में अपना करियर ‘लाइसेंस’ गाने के बोल लिखकर शुरू किया, जिसे पंजाबी गायक निंजा ने गाया था। गाना तुरंत हिट हो गया। 

इसके बाद उन्होंने गायकों दीप झंडू, एली मंगत और करण औजला के साथ काम किया। 2017 में, सिद्धू ने पंजाबी गीत “जी वैगन” के साथ गायन में अपनी शुरुआत की। 

उसी वर्ष, उन्होंने “सो हाई” गीत को अपनी आवाज दी। दोनों गाने सुपरहिट थे और उन्हें व्यापक लोकप्रियता मिली। इसके बाद, उन्होंने “रेंज रोवर,” “दुनिया,” “डार्क लव,” “टोचन,” और “इट्स ऑल अबाउट यू” जैसे कई लोकप्रिय पंजाबी गाने जारी किए।

राजनीति

3 दिसंबर 2021 को, मूसेवाला मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और पीपीसीसी प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू की उपस्थिति में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (आईएनसी) में शामिल हो गए ।

सिद्धू मूसे वाला के विवाद (Sidhu Moose wala Controvercy )

  • सिद्धू मूसेवाला करण औजला के अच्छे दोस्त थे, लेकिन दोनों के बीच झगड़ा हो गया और करण ने कथित तौर पर रिलीज से पहले मूसेवाला के विभिन्न गाने लीक कर दिए। 2018 में, औजला ने सनम भुल्लर के साथ दीप जंदू और लफाफे के साथ ‘अप एंड डाउन’ गाने जारी किए जिसमें उन्होंने सिद्धू को बदनाम किया। यह अभिनय गायक के साथ अच्छा नहीं रहा और उसने बदले में करण औजला को निशाना बनाते हुए एक गाना ‘वार्निंग शॉट्स’ भी जारी किया। इसके बाद दोनों के बीच ठंड शुरू हो गई।
  • प्रोफेसर धनेवर द्वारा अपनी मां के खिलाफ ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग, एसएएस नगर, मोहाली के निदेशक को शिकायत दर्ज कराई गई थी जिसमें प्रोफेसर ने सिद्धू मूसेवाला द्वारा गाए गए भड़काऊ और अवैध गीतों का उल्लेख किया था। बाद में, चरण कौर ने पंडित राव धनेवर को एक माफी पत्र लिखा जिसमें कहा गया था कि भविष्य में उनका बेटा भड़काऊ गीत वाले गाने नहीं गाएगा।

सिद्धू मूसे वाला के बारे में रोचक तथ्य

  • उनका नाम, सिद्धू मूसेवाला, उनके गाँव के नाम “मूसा” से प्रेरित है जो पंजाब के मनसा में स्थित है।
  • 2015 में, जब सिद्धू मूसेवाला ने एक गाने के लिए पंजाबी उद्योग के एक प्रसिद्ध गीतकार से संपर्क किया, तो गीतकार चीजों को टालते रहे और बाद में उन्हें एक गीत देने से इनकार कर दिया। इस घटना ने उन्हें इस हद तक आहत किया कि उन्होंने अपने गीत खुद लिखने का फैसला किया। शुरू में वे लिखने में कमजोर थे लेकिन धीरे-धीरे वे इसमें अच्छे हो गए।
  • वह ‘चन्नी बांका’ को अपना गॉडफादर मानते हैं। यह बांका ही थे जिन्होंने सिद्धू को पंजाबी संगीत उद्योग से परिचित कराया और उन्हें कनाडा में नाम कमाने में भी मदद की।
  • रिलीज़ के लिए आधिकारिक तौर पर रिकॉर्ड किए जाने से पहले उनके लगभग 8 गाने लीक हो गए थे।
  • 2018 में, सिद्धू ने अपने नफरत करने वालों को निशाना बनाते हुए एक गाना ‘जस्ट लिसन’ लॉन्च किया।

सिद्धू मूसे वाला की हत्या (Sidhu Moose wala Death )

पंजाबी गायक और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसे वाला, जिनकी मानसा जिले में 29 मई 2022 को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, का सुरक्षा कवच कल कम कर दिया गया था।

राज्य के ग्रामीण इलाकों में लोकप्रिय 28 वर्षीय गायिका उन 424 वीआईपी में शामिल हैं, जिनकी सुरक्षा कल भगवंत मान सरकार द्वारा वीआईपी संस्कृति पर नकेल कसने की कवायद के तहत कम कर दी गई थी।

इससे पहले चार सशस्त्र कर्मियों द्वारा संरक्षित, गायक को दो द्वारा पहरा दिया गया था, जब उसे आज शाम अपने गांव में अपने दोस्त से मिलने के लिए गोलियों से उड़ा दिया गया था।

नवीनतम दौर में जिन वीआईपी की सुरक्षा कम की गई थी, उनमें सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी और धार्मिक और राजनीतिक नेता शामिल थे। इससे पहले, राज्य सरकार ने 184 पूर्व मंत्रियों, विधायकों और निजी सुरक्षा प्राप्त लोगों की सुरक्षा वापस ले ली थी। एक महीने पहले 122 पूर्व मंत्रियों और विधायकों की सुरक्षा वापस ले ली गई थी।

पूर्व मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, राज कुमार वेरका, भारत भूषण आशु और पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का परिवार उन लोगों में शामिल थे, जिन्होंने अपनी सुरक्षा खो दी।

सिद्धू मूसे वाला की हत्या से जुड़े हुए कुछ अनसुलझे सवाल

यहां पर कुछ अनसुलझे सवाल है जिनका जबाब अभी मुझे नहीं मिल पाया है और ये सब एक बस समान्य घटना तो नहीं हो सकती है। आपका क्या विचार है कमेंट बॉक्स में बताये।

  • सिद्धू मूसे वाला के पास हतियारो का होना ? क्या उन्हें पता था की उनकी जान को खतरा है
  • क्यों बड़े बड़े गैंगेस्टर उनकी मौत के पीछे पड़े हुए थे ?
  • क्यों सिद्धू मूसे वाला का मैनेजर ऑस्ट्रेलिआ भाग गया जब गोल्डी बरार और लॉरेंस बिश्नोई के भाइयों की हत्या हुई थी ?
  • गोल्डी बरार और लॉरेंस बिश्नोई के भाइयों की हत्या का इल्जाम सिद्धू मूसे वाला के सर क्यूँ मडा जा रहा है ?
  • सिद्धू मूसे वाला की टाइट सिक्योरिटी उनकी हत्या से एक दिन पहले हटा दी
  • VVIP लोगो की सिक्योरिटी हटाने की बात काफी सवेंदनशील होती है जिसकी भनक लोगो को नहीं लगती और यहां पूरी की पूरी लिस्ट जनता में लीक हो गई आखिर क्यों ?

FAQ

सिद्धू मूसे वाले का पूरा नाम क्या है?

शुभदीप सिंह सिद्धू

सिधु मूसे वाला की जाति क्या है?

जाट

सिद्धू मूसे वाले का जन्मदिन कब है?

11 जून 1993

सिद्धू मूसेवाला की हत्या कब हुई?

29 मई 2022

सिद्धू मूसेवाला की हत्या किसने की?

लॉरेंस बिश्नोई ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।

क्या सिद्धू मूसे वाला जिन्दा है?

नहीं सिद्धू मूसे वाला अब इस दुनिया में नहीं रहे 29 मई 2022 को उनकी हत्या कर दी गई।

क्या सिद्धू मूसे वाला की हत्या हो गई है?

उनकी छाती में 5 गोलियाँ मारकर उनकी हत्या कर दी गई।

यह भी पढ़े :-

अंतिम कुछ शब्द –

दोस्तों मै आशा करता हूँ आपको ”सिद्धू मूसेवाला का जीवन परिचय,हत्या | Sidhu Moosewala Biography ,Death in hindi”वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हों तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आपसे एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद

283272931b5637e84fd56e27df3beb17?s=250&d=mm&r=g