राकेश झुनझुनवाला के 10 फेमस कोट्स 

1). बाजार का सम्मान करें. दिमाग खुला रखें. जानें कि क्या दांव पर लगाना है. जानिए कब नुकसान उठाना है. जिम्मेदार बनें.

2). जल्दबाजी में लिए गए फैसलों से हमेशा भारी नुकसान होता है. किसी भी स्टॉक में पैसा लगाने से पहले अपना समय लें.

3). ट्रेंड प्रवृत्ति का अनुमान लगाएं और उससे लाभ उठाएं. व्यापारियों को मानव स्वभाव के खिलाफ जाना चाहिए.

4). कभी भी अनरीजनेबल वैल्यूएशन पर इंवेस्ट ना करें. उन कंपनियों के लिए कभी न दौड़ें जो सुर्खियों में हैं.

5). ट्रेडिंग आपको हमेशा अपने पैरों पर रखती है, यह आपको सतर्क रखती है. यही एक कारण है कि मुझे व्यापार करना पसंद है.

6). इनोशनल इंवेस्टमेंट शेयर बाजारों में नुकसान करने का एक निश्चित तरीका है.

7). आप शेयर बाजार में तब तक मुनाफा नहीं कमा सकते जब तक आपके पास नुकसान सहने की क्षमता न हो.

8). खरीदें जब दूसरे बेचते हैं और बेचें जब दूसरे खरीदते हैं - शेयर बाजार मंत्र.

9). उन कंपनियों में निवेश करें जिनके पास मजबूत प्रबंधन और प्रतिस्पर्धी प्रबंधन है.

10). जब अवसर आते हैं, तो वे टेक्नोलॉजी, मार्केटिंग, ब्रांड, वैल्सू प्रोटेक्शंस, कैपिटल, आदि के माध्यम से आ सकते हैं. आपको उन्हें पहचानने में सक्षम होने की आवश्यकता है.

Rakesh Jhunjhunwala ने ‘चाय‘ से बनाया था अपनी जिंदगी का पहला बड़ा Profit, जानिए कैसे

 पहला बड़ा प्रॉफिट

राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) का पहला बड़ा प्रॉफिट 1986 में टाटा टी के शेयरों (Tata Tea Shares) से आया था

 पहला बड़ा प्रॉफिट

1986 में, राकेश झुनझुनवाला ने टाटा टी के 5000 शेयर 43 रुपये प्रति शेयर का भुगतान करके खरीदे.

 पहला बड़ा प्रॉफिट

उनकी खरीदारी के केवल तीन महीनों में टाटा टी के शेयर की कीमत 43 रुपये से बढ़कर 143 रुपये के लेवल पर पहुंच गई.

(Rakesh Jhunjhunwala Portfolio)

राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो   में टाटा ग्रुप के शेयर (Tata Group Shares) हमेशा पसंदीदा शेयरों में से एक रहे हैं

पहला बड़ा प्रॉफिट

लेकिन इसके पीछे की वजह बहुत कम लोग जानते हैं. दरअसल, राकेश झुनझुनवाला का पहला बड़ा प्रॉफिट टाटा ग्रुप के स्टॉक से आया था

इसलिए 1985 में टाटा समूह के लिए उनका दृढ़ विश्वास समय के साथ और मजबूत होता गया.

पहला बड़ा प्रॉफिट

अगले तीन वर्षों में, राकेश झुनझुनवाला ने टाटा टी के शेयरों से लगभग 25 लाख रुपये कमाए, जो शेयर बाजार से उनका पहला बड़ा प्रॉफिट था.

पहला बड़ा प्रॉफिट

राकेश झुनझुनवाला स्टोरी: द वॉरेन बफेट ऑफ इंडिया

कौन है 

राकेश झुनझुनवाला एक प्रसिद्ध और धनी भारतीय व्यवसायी, एक निवेशक, व्यापारी और दुर्लभ उद्यमों के मालिक हैं।

प्रसिद्द क्यों है ?

राकेश झुनझुनवाला को " भारत के वॉरेन बफेट " के रूप में भी जाना जाता है, भारत के सबसे प्रसिद्ध और सम्मानित निवेशक हैं।

कितने अमीर है ?

फोर्ब्स के मुताबिक आज वह भारत के 53 वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं।

जन्मदिन 

राकेश झुनझुनवाला का जन्म 5 जुलाई 1960 को मुंबई के एक बहुत ही मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था। 

उनके पिता 

उनके पिता एक आयकर अधिकारी थे।.वह बचपन से ही स्टॉक मार्केटिंग से मोहित हैं।

शिक्षा 

उन्होंने मुंबई के सिडेनहैम कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स से स्नातक की पढ़ाई पूरी की है।

उनकी पिता से बात 

उन्होंने अपने पिता से स्टॉकिंग मार्केटिंग में करियर शुरू करने के बारे में पूछा।

उनके पिता का जबाब 

हमेशा वही करें जिसमें आपकी रुचि हो "। - " मेरे और मेरे दोस्तों के पास पैसे मांगने कभी मत आना ।"

उनके पिता की बातें 

 उनके पिता ने उनका हौसला बढ़ाया और कहा, '' निडर बनो ''।

शेयर मार्किट की शुरुआत 

राकेश झुनझुनवाला ने जब करियर की शुरुआत की थी तब उनकी जेब में सिर्फ 5,000 रुपये थे।

शेयर मार्किट की शुरुआत 

उस समय उनके भाई, जो चार्टर्ड अकाउंटिंग का अभ्यास कर रहे थे, के पास एक बहुत अच्छा ग्राहक था। उस महिला के पास एक बड़ी पूंजी थी

शेयर मार्किट की शुरुआत 

वह महिला बड़ा रिटर्न चाहती थी। उस समय बैंक जमा में 10% रिटर्न देता था। राकेश ने उसे प्रति वर्ष 18% रिटर्न देने की पेशकश की, इस वजह से राकेश को उस महिला से 2,50,000 रुपये मिले।

शेयर मार्किट की शुरुआत 

उन्होंने एक दूसरे व्यक्ति से 5,00,000 रुपये भी लिए और इस तरह उसने एक-एक करके अपनी प्रारंभिक पूंजी की व्यवस्था की।

पहला मुनाफा 

अपने करियर के शुरुआती दौर में राकेश ने ट्रेडिंग करके 8 से 10 लाख रुपये कमाए।

बड़ा इन्वेस्टमेंट 

1988 में, उन्होंने सेसा गोवा के 2.5 लाख शेयर 28 रुपये की कीमत पर और अन्य 2.5 लाख शेयर 35 रुपये की कीमत पर खरीदे।

बड़ा मुनाफा 

छह महीने बाद सेसा गोवा की कीमत बढ़कर 65 रुपये हो गई। 1989 में, वीपी सिंह की सरकार, वित्त मंत्री मधु धनवती थी।

अपने आप को साबित करना 

  राकेश झुनझुनवाला की कुल संपत्ति 2 करोड़ थी, और पांच महीने के बजट घोषणा के बाद नेटवर्थ  40-50 करोड़ हो गई।

दूसरा बड़ा मुनाफा 

2002-2003 में उन्होंने टाइटन कंपनी (एक बड़ा ज्वैलरी ब्रांड) के शेयर 4.5 रुपये प्रति शेयर के औसत मूल्य पर खरीदे।

दूसरा बड़ा मुनाफा 

टाइटन का स्टॉक बढ़कर 80 रुपये हो गया  इससे राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो की कीमत 300 करोड़ से ज्यादा हो गई

राकेश झुनझुनवाला  की संपत्ति 

राकेश झुनझुनवाला की कुल संपत्ति 2.3 अरब डॉलर यानी करीब 15000 करोड़ रुपये है। 5 जुलाई 2020 को अपने 60 वें जन्मदिन पर उन्होंने अपनी संपत्ति का 25% दान करने की घोषणा की।