अदिति सिंह (राजनीतिज्ञ ) की जीवनी । Aditi Singh (politician)

अदिति सिंह (राजनीतिज्ञ ) की जीवनी । Aditi Singh (politician) Biography in Hindi

अदिति सिंह (राजनीतिज्ञ ) का  जीवन परिचय, जीवनी , उम्र, हाइट, शादी , पति , परिवार, जाति। Aditi Singh (politician) Biography in Hindi (age , family ,Marriage, movies ) । who is Aditi Singh

अदिति सिंह एक चर्चित नाम जो हर न्यूज़ चैनल पर चर्चा का विषय बना हुआ है जहा देखो वह अदिति सिंह आइये जानते है कौन है ये अदिति सिंह जो फेमस हो गई है और न्यूज़ एवं सोशल प्लेटफार्म पर धूम मचाये हुए है।

गांधी परिवार की करीबी मानी जाने वाली अदिति को 2017 में कांग्रेस पार्टी का टिकट मिला था। अदिति को प्रियंका गांधी वाड्रा की काफी करीबी माना जाता है। कुछ का यह भी दावा है कि अदिति ने प्रियंका वाड्रा की सलाह पर राजनीति में आने के लिए अपना कॉर्पोरेट करियर छोड़ दिया था ।

23 अगस्त 2018 को राहुल गांधी द्वारा सिंह को अखिल भारतीय महिला कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव के रूप में नामित किया गया था ।आइये जानते है अदिति सिंह के जीवन के बारे में , उनकी शिक्षा ,जन्म , शादी एवं उनके करियर के बारे में –

अदिति सिंह का जीवन परिचय ( Aditi Singh Biography )

Table of Contents

नाम (Name)अदिति सिंह
जन्म तारीख (Date of birth)15 नवंबर 1987
उम्र( Age)34 साल (साल 2021 )
गृहनगर (Hometown)रायबरेली ,उत्तरप्रदेश , भारत
शिक्षा (Education )मैनेजमेंट की डिग्री
कॉलेज /विश्व विद्यालय (University )ड्यूक उनिवर्सिटी ,संयुक्त राज्य अमेरिका
राशि (Zodiac Sign)तुला राशि
आँखों का रंग (Eye Color)काला
बालो का रंग( Hair Color)काला
धर्म (Religion)हिन्दू
नागरिकता(Nationality)भारतीय
पेशा (Occupation)राजनीतिज्ञ
पार्टी (Party ) भारतीय जनता पार्टी
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)  विवाहित

कौन है अदिति सिंह (Who is Aditi Singh )

Congress Rae Bareli MLA Aditi Singh Image 26 20 05 2020
अदिति सिंह

यूपी की राजनीति में कई ऐसे नाम हैं जो अपने पिता की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ा रही हैं। ऐसे ही लोगों में एक नाम अदिति सिंह का भी है।

अदिति सिंह यूपी की बेहद युवा विधायक हैं। अदिति सिंह के लिए उनके पिता ना सिर्फ राजनीतिक विरासत छोड़ गए बल्कि अपनी बेटी के लिए उनके जीवनसाथी का चुनाव भी कर गए। 

अदिति रायबरेली सदर सीट से कांग्रेस एमएलए थी । वह पहली बार विधायक बनी हैं। रायबरेली सदर से ही उनके पिता अखिलेश सिंह 5 बार विधायक रहे। वह कई पार्टियों में रहे। 24 नवंबर 2021 को अदिति कांग्रेस पार्टी को छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गई।

अदिति सिंह का जन्म ( Aditi Singh Born )

अदिति सिंह का जन्म 15 नवंबर 1987 को उत्तरप्रदेश में पिता अखिलेश सिंह के यहाँ हुआ था। उनके पिता अखिलेश भी एक राजनीतिज्ञ है। जिनकी साल 2019 में कैंसर की वजह की वजह से मर्त्यु हो गई थी।

वह उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा की सबसे कम उम्र की सदस्यों में से एक हैं । उन्होंने 2017 का विधानसभा चुनाव 90,000 से अधिक मतों के अंतर से जीता था। उन्होंने नवांशहर निर्वाचन क्षेत्र से पंजाब विधानसभा के विधायक अंगद सिंह सैनी से शादी की है ।

अदिति सिंह की शिक्षा ( Aditi Singh Education )

अदिति ने अपनी शुरूआती पढाई दिल्ली एवं मसूरी के स्कूलों से प्राप्त की उसके बाद वे आगे की पढाई के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका चली गई जहाँ पर उन्होंने ड्यूक विश्वविद्यालय में दखिला लिया और अपने मैनेजमेंट की डिग्री हासिल की। पढ़ाई के बाद वह राजनीति में आ गईं और विधायक बन गईं। 

अदिति सिंह की शादी (Aditi Singh Marriage )

Aditi Singh Raebareily 6 1
अदिति सिंह की शादी

अदिति के पिता अखिलेश सिंह 2017 से ही बीमार चल रहे थे। उन्हें कैंसर हो गया था। 2019 में वह कैंसर से जंग हार गए। लेकिन जहां अपने अंतिम दिनों में वह बेटी को राजनीति में सेटल कर गए वहीं वह बेटी का रिश्ता भी पक्का कर गए थे।

अदिति ने नवंबर 2019 में पंजाब में नवांशहर से कांग्रेस विधायक अंगद सिंह से शादी की है। अदिति ने बताया कि अंगद सिंह का चुनाव उनके पिता ने ही किया था । 

बकौल अदिति अखिलेश सिंह ने अपने जीवन काल में अंगद सिंह के साथ उनकी सगाई भी करा दी थी।  बता दें कि अंगद सिंह भी पहली बार विधायक बने हैं।

क्यों चर्चा में है अदिति सिंह (Why Aditi Singh is Trending )

रायबरेली से कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह 24 नवंबर 2021 को कांग्रेस पार्टी को छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गईं है ।

अदिति सिंह के इस कदम को कांग्रेस पार्टी के लिए एक झटके के रूप में देखा जा रहा है, कांग्रेस जो 2022 के यूपी चुनावों से पहले राज्य में अपने खोए हुए राजनीतिक आधार को फिर से हासिल करने के लिए संघर्ष कर रही है।

क्यों महत्वपूर्ण थी अदिति सिंह कांग्रेस के लिए ?

  • रायबरेली सीट वह जगह है जहां करीब तीन दशक से अदिति के परिवार का दबदबा है. उनके पिता, स्वर्गीय अखिलेश सिंह, कांग्रेस के लिए 1993 से 2007 तक यहां कांग्रेस विधायक थे।
  • साल 2007 में निर्दलीय के रूप में जीतने से पहले कांग्रेस ने 2012 में अदिति की पिता अखिलेश सिंह को पीस पार्टी से निष्कासित कर दिया था।लेकिन बाद में अदिति ने 2017 में कांग्रेस के टिकट पर यह सीट जीतकर पदभार संभाला था।
  • रायबरेली में शुरू से ही अदिति के परिवार का राजनैतिक दबदबा रहा है अब अदिति अपनी ऐसी मजबूत पकड़ के साथ जिस पार्टी को भी सपोर्ट करेंगी तो उस पार्टी की भी पकड़ लोगो को बनेगी।
  • पहले यह फ़ायदा भारतीय कांग्रेस पार्टी को मिल रहा था लेकिन अदिति सिंह के एक से पार्टी छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के बीजेपी को यह यह फायदा मिलेगा।
  •  रायबरेली के लालूपुर में स्थानीय लोगों के एक समूह ने दावा किया था की “अगर कांग्रेस दीदी (अदिति ) को मैदान में नहीं उतारती है तो वह इस सीट से 100% हार जाएगी।”अब क्योकि अदिति ने कांग्रेस पार्टी को छोड़ दिया है तो रायबरेली से कांग्रेस का पत्ता कट चुका है और इसी वजह से कांग्रेस बौखलाई फिर रही है।
  •  ऐसा कहा जाता है कि अदिति के पिता अखिलेश सिंह ने रायबरेली लोकसभा सीट से सोनिया गांधी की जीत में अहम भूमिका निभाई थी।

क्यों फायदेमन्द साबित हो रही है भाजपा पार्टी के लिए अदिति

जब अदिति सिंह कांग्रेस पार्टी की सदस्य थी तब वे अपने राजनीती करियर से ज्यादा अपने देश के हित और विकास के लिए क्या सही हो रहा है और क्या गलत , ऐसी बातो पर अपने बेबाक बयान देने से नहीं चूकती थी फिर चाहे वो अपनी पार्टी कांग्रेस के खिलाफ हो या उनकी विपक्ष पार्टी भाजपा सरकार के हित में हो। उनके लिए देश पहले है और पार्टी बाद में।

आईये जानते है क्यों भारतीय जनता पार्टी ने अदिति का अपनी पार्टी में स्वागत किया है इसके पीछे तीन सबसे बड़े कारण बताये जा रहे है जो की निम्न है।

अनुच्छेद 370 हटाने पर नरेन्द्रमोदी की सरकार को सराहना

जब नरेन्द्रमोदी की सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया था तब पूरी कांग्रेस बीजेपी हाथ धोके पड़ गई थी और इसे सरकार का गलत निर्णय बताने पर तुली हुई थी लेकिन अदिति उस समय कांग्रेस की सदस्य होने के नाते भी केंद्र सरकार को सपोर्ट कर रही थी और नरेन्द्रमोदी के इस इस फैसले की सराहना कर रही थी।

अदिति के दिए गए बयान के मुताबित जो कार्य देश के हिट में हो उसमे वो सही निर्णयों के सम्मान करती है और ऐसे सही निर्णयों पर राजनीती नहीं खेली जानी चाहिए और इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता वो किस पार्टी की सदस्य हे अगर विपक्ष की पार्टी देश के हित में सही कार्य कर रही है तो वो उनके फैसलों का सम्मान करेंगी चाहे फिर वो उनकी पार्टी के सदस्यों को अच्छा लगे या बुरा।

कृषि कानून की वापसी को लेकर प्रियंका गाँधी को खरी खोटी सुनाना

अदिति ने कृषि कानून को लेकर एक बड़ा बयान दिया था उनके मुताबिक जब केंद्र सरकार किसानो के हित के लिए कृषि कानून लायी थी तो उस समय प्रियंका गाँधी को दिक्कत हुई थी और प्रियंका लगातार नरेंद्र मोदी की सरकार को कोस रही थी की उनका निर्णय गलत है।

जब नरेन्द्रमोदी की सरकार ने इस विषय पर गौर किया और कृषि कानून को निरस्त कर दिया तो तब भी प्रियंका गाँधी को दिक्कत हो रही है। अदिति के मुताबिक प्रियंका गाँधी को किसानो से कोई लेना देना नहीं है बस अपनी घटिया राजनीती के दावों पेंच खेलने है।

अब कृषि कानून निरस्त हो जाने से प्रियंका के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है तो अब इस मुद्दे को लेकर वो सिर्फ और सिर्फ राजनीतिकरण कर रही है। अदिति की यह बात कांग्रेस पार्टी को अंदर तक चुब गई थी जब उनकी पार्टी की सदस्य ही ऐसी बाते कर रही थी।

जितिन प्रसाद के पार्टी छोड़ने पर हमलावर हो गई थी अदिति

जब पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद ने कांग्रेस पार्टी छोड़ दी थी तो तब अदिति हमलावर हो गई थी और कांग्रेस पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा था की जब जितिन प्रसाद एवं ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे पढ़े लिखे ,युवा ,अनुभवी नेता लोग पार्टी छोड़ रहे है तो कांग्रेस पार्टी को अपने नेतत्व का आत्ममंथन करना चाहिए यह एक ऐसा नुकसान हे जिसकी बाद में कांग्रेस पार्टी भरपाई नहीं कर पायेगी।

अदिति सिंह की कुल संपत्ति (   Aditi Singh  Net Worth)

कुल संपत्ति (Net Worth 2021)13,98,456 रूपये
नकद कैश  (Cash in hand )15000
बैंक में जमा राशि  (Deposits in Banks)53000 रूपये
सोने के आभुषण (Gold Jewelry )150 ग्राम सोना (4 लाख रूपये कीमत )

FAQ

अदिति सिंह कौन है ?

अदिति सिंह एक राजनीतिज्ञ होने के साथ साथ राजनीतिज्ञ अखिलेश सिंह की बेटी है।

अदिति सिंह के पिता का क्या नाम है ?

अदिति सिंह के पिता का नाम अखिलेश सिंह है।

यह भी देखे :-

अंतिम कुछ शब्द –

दोस्तों मै आशा करता हूँ आपको ”  अदिति सिंह (राजनीतिज्ञ ) की जीवनी । Aditi Singh (politician) Biography in Hindi ”वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हों तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आपसे एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद

283272931b5637e84fd56e27df3beb17?s=250&d=mm&r=g