पद्मिनी कोल्हापुरी का जीवन परिचय।Padmini Kolhapure Biography

पद्मिनी कोल्हापुरी का जीवन परिचय।Padmini Kolhapure Biography in hindi

पदमिनी कोल्हापुरी  का जीवन परिचय, जीवनी ,बायोग्राफी ,पति ,बच्चे ,परिवार ,उम्र, विवाह,फिल्म,(Padmini Kolhapure Biography in Hindi, religion ,Husband, Affairs ,boyfriend marriage, Sister , Family, Age, husband name parentsSon )

पद्मिनी कोल्हापुरे एक प्रसिद्ध भारतीय फिल्म अभिनेत्री होने के साथ-साथ एक गायिका भी हैं, जो मुख्य रूप से मराठी और हिंदी फिल्मों में अपने काम के लिए पहचानी जाती हैं।

पद्मिनी कोल्हापुरी ने बहुत कम उम्र में अपने अभिनय करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने किताब, यादों की बारात और दुश्मन दोस्त जैसी फिल्मों के लिए सिंगल्स के लिए अपनी बहन शिवांगी के साथ मिलकर कोरस गाया।

पद्मिनी ने विधाता, सात सहेलियां, हम इंतजार करेंगे और सड़क छाप जैसी फिल्मों के लिए भी गाना गाया है। उन्होंने प्रसिद्ध गायक बप्पी लहरी के साथ ‘म्यूजिक लवर्स’ नामक संगीत एल्बम भी बनाया।

साल 2021 में वह कपिल शर्मा के शो में अभिनेत्री पूनम ढिल्लो के साथ भी दिखाई दी। आज के इस ब्लॉग में हम उनके जिंदगी के बारे में जानेंगे।

पद्मिनी कोल्हापुरी
पदमिनी कोल्हापुरी

पद्मिनी कोल्हापुरी का जीवन परिचय

Table of Contents

नाम ( Name)पद्मिनी कोल्हापुरी
निक नेम (Nick Name )पंडी
जन्म (Birth)1 नवंबर 1965
उम्र (Age)55 साल (साल 2021 )
जन्म स्थान (Birth Place)मुंबई, महाराष्ट्र
राष्ट्रीयता (Nationality)भारतीय
गृहनगर (Hometown)मुंबई, महाराष्ट्र
धर्म (Religion)हिन्दू
जाति (Cast )कोंकणी ब्राह्मण
राशि (Zodiac sign)वृश्चिक राशि
लम्बाई (Height)5 फीट 4 इंच
वजन (Weight )60 किग्रा
आंखो का रंग (Eye Colour)गहरा भूरा
बालों का रंग (Hair Colour)काला
शौक (Hobbies)फिल्में देखना, खाना बनाना
पेशा (Profession)अभिनेत्री और गायिका
पहली फिल्म /टीवी (Debut )गायन: सात सहेलियां (विधाता) (1982)
फिल्म ( बाल कलाकार के रूप में): एक खिलाड़ी बावन पत्ते (1972)
फिल्म (मुख्य अभिनेत्री के रूप में): अहिस्ता अहिस्ता (1981)
एल्बम: लव डांस लव (1985) (बप्पी लाहिड़ी के साथ)
टीवी: एक नई पहचान (2013)
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)विवाहित
शादी की तारीख (Marriage Date )15 अगस्त 1986

पद्मिनी कोल्हापुरी का जन्म एवं शुरुआती जीवन ( Birth & Early Life )

पद्मिनी कोल्हापुरी का जन्म 1 नवंबर 1965 को महाराष्ट्र के मुंबई शहर में पिता पंधारिनाथ कोल्हापुरी एवं माँ निरुपमा कोल्हापुरी के यहां हुआ था। पद्मिनी कोल्हापुरे एक मराठी परिवार से ताल्लुक रखती है। वह तीन बेटियों में अपने माता-पिता की दूसरी संतान थी।

वह एक संगीतकार परिवार से ताल्लुक रखती थीं। उनके पिता एक प्रशिक्षित शास्त्रीय गायक और वीणा वादक थे। उसने कम उम्र में ही संगीत सीखना शुरू कर दिया था।

पद्मिनी कोल्हापुरी
पदमिनी कोल्हापुरी का बचपन

उनके परिवार का ” कोल्हापुरी ” उपनाम महाराष्ट्र में “कोल्हापुर” स्थान को दर्शाता है; जहां से परिवार ताल्लुक रखता है।पद्मिनी की मां, निरुपमा कोल्हापुरी , कोंकणी ब्राह्मण ,मराठी परिवार में पैदा हुई थीं। उनकी मां पहले एयर इंडिया के साथ ग्राउंड स्टाफ के रूप में काम करती थीं

पद्मिनी के पिता की मां पंडित दीनानाथ मंगेशकर की सौतेली बहन थीं। इस तरह पद्मिनी दिग्गज गायिका लता मंगेशकर और आशा भोंसले की भतीजी हैं।

पद्मिनी कोल्हापुरी का परिवार ( Padmini Kolhapure Family )

पिता का नाम (Father’s name)पंधारिनाथ कोल्हापुरी (एक शास्त्रीय गायक)
माता का नाम (Mother’s name)निरुपमा कोल्हापुरी
बहन का नाम ( Sister ’s name)शिवांगी कपूर (बड़ी, अभिनेत्री)
तेजस्विनी कोल्हापुरी (छोटी, अभिनेत्री)
पति का नाम (Husband ’s name)प्रदीप शर्मा
बेटे का नाम (Son ’s name)प्रियांक प्रदीप शर्मा (अभिनेता)

पद्मिनी कोल्हापुरी की शादी एवं पति (Padmini Kolhapure marriage and husband )

बचपन से ही फिल्मों में काम कर चुकीं पद्मिनी कोल्हापुरी को फिल्म निर्माता प्रदीप शर्मा से प्यार हो गया। उस समय पद्मिनी की उम्र महज 21 साल थी। घरवाले इस शादी के लिए तैयार नहीं हुए थे।

पद्मिनी कोल्हापुरी की शादी
पद्मिनी कोल्हापुरी की शादी

ऐसे में पद्मिनी को घर से भागकर 15 अगस्त 1986 को शादी करनी पड़ी. पद्मिनी की मुलाकात प्रदीप शर्मा से फिल्म ऐसा प्यार कौन के सेट पर हुई थी। इस फिल्म में उनके को-स्टार मिथुन चक्रवर्ती थे।

 इस फिल्म के डायरेक्टर विजय सदाना को प्रदीप शर्मा ने प्रोड्यूस किया था। पद्मिनी के परिवार को प्रदीप के साथ उसका रिश्ता पसंद नहीं आया क्योंकि दोनों अलग-अलग समाज से थे।

जब पद्मिनी के कट्टर महाराष्ट्रीयन परिवार को समझाने की कोशिश सफल नहीं हुई तो दोनों ने घर से भागकर एक दूसरे के साथ जीवन बिताने का फैसला किया। 

उन दोनों का एक बेटा प्रियांक था, जिसने 4 फरवरी से अपनी शादीशुदा जिंदगी की शुरुआत की थी। पद्मिनी एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर की मौसी लगती हैं। शक्ति कपूर दिखने में पद्मिनी के जीजा लगते हैं।

पद्मिनी कोल्हापुरी का करियर ( Career )

बाल कलाकर के रूप में फिल्मो में करियर –

पद्मिनी कोल्हापुरी ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत बहुत ही छोटी उम्र से की थी। साल 1972 में उन्होंने बतौर बाल कलाकार उनकी पहली फिल्म ‘ एक खिलाड़ी बावन पत्ते ‘ थी। वह हमेशा एक गायिका बनना चाहती थी। 1973 में, उन्होंने फिल्म ‘यादों की बारात’ के लिए एक बच्चे के रूप में गायन की शुरुआत की। उन्होंने अपनी बहन शिवांगी के साथ गाने के लिए कोरस में गाया।

पद्मिनी कोल्हापुरी  की पहली फिल्म
पद्मिनी कोल्हापुरी की पहली फिल्म

एक रिपोर्ट के मुताबिक यह आशा भोसले थीं जिन्होंने देव आनंद को पद्मिनी कोल्हापुरी का नाम सुझाया था, जिन्होंने तब उन्हें इश्क इश्क इश्क (1975) में एक बाल कलाकार के रूप में लिया था।

1977 में, उन्होंने फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ में एक बाल कलाकार के रूप में भूमिका निभाई, जो उनकी सबसे प्रसिद्ध बाल भूमिका बन गई।

फिल्म 'सत्यम शिवम सुंदरम' में
फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ में

मुख्य अभिनेत्री के रूप में फिल्मो में करियर –

1980 में, पद्मिनी ने राज बब्बर और दीपक पाराशर के साथ फिल्म ‘इंसाफ का तराज़ू’ में एक प्रमुख भूमिका निभाई, जहाँ उनके अभिनय को सिनेमा समीक्षकों और दर्शकों ने सराहा।

बतौर मुख्य अभिनेत्री उनकी पहली फिल्म ” अहिस्ता अहिस्ता ” थी जो साल 1981 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में उनके साथ शम्मी कपूर, नंदा, कुणाल कपूर जैसे बड़े कलाकार भी थे।

 फिल्म '' अहिस्ता अहिस्ता '
फिल्म ” अहिस्ता अहिस्ता ‘

1982 में, वह ऋषि कपूर के साथ फिल्म ‘प्रेम रोग’ में दिखाई दीं और 17 साल की उम्र में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का फिल्मफेयर पुरस्कार जीता।

1985 में, उन्होंने एक फिल्म ‘दो दिलों की दास्तान’ में अभिनेत्री के रूप में काम किया था ऐसा माना जाता है की फिल्म की शूटिंग के दौरान उनकी तबियत ठीक नहीं थी लेकिन फिर भी उन्होंने बीमार रहते हुए फिल्म की शूटिंग पूरी की ।

साल 1985 दौरान जब अभिनेता अनिल कपूर बॉलीवुड फिल्मो में आये थे तो उन्होंने अपनी पहली वो सात दिन ,अभिनेत्री पदमिनी के साथ की थी जो उस समय तक एक बड़ी अभिनेत्री बन चुकी थी। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई और अनिल कपूर को बॉलीवुड में अपनी पहली फिल्म में पदमिनी के साथ काम करने की वजह से पैर जमाने में मदद मिली।

साल 1993 में, उन्होंने अपनी अंतिम फिल्म ‘प्रोफेसर की पड़ोसन’ की और फिल्म जगत से एक लम्बा ब्रेक ले लिया।

फिल्म 'प्रोफेसर की पड़ोसन'
फिल्म ‘प्रोफेसर की पड़ोसन’

साल 1999 में उन्होंने एक फिल्म निर्माता के रूप बॉलीवुड में वापसी की और फिल्म रॉकफोर्ड बनाई। 2003 में, उन्होंने लगभग 10 साल के बाद अपने बड़े बेटे के साथ एक मराठी फिल्म, ‘चिमनी पाखर’ से अभिनय में वापसी की।यह फिल्म एक बड़ी हिट साबित हुई। उन्हें सर्वश्रेष्ठ मराठी अभिनेत्री श्रेणी में स्क्रीन अवार्ड मिला। साल  2013 में, उन्होंने कॉमेडी फिल्म फटा पोस्टर निकला हीरो में शाहिद कपूर की मां की भूमिका निभाई 

पद्मिनी कोल्हापुरी की कुछ बेहतरीन फिल्मे ( Padmini Kolhapure Famous Movies )

  1. सत्यम शिवम सुंदरम (1977 )

2. थोड़ी सी बेवफाई (1980)

3. इंसाफ का तराज़ू (1980)

4. जमाने को दिखाना है (1981)

5. प्रेम रोग (1982)

6. विधाता (1982)

7. वो 7 दिन (1983)

8. सौतन (1983 )

9. प्यार झुकता नहीं (1985)

10. अनुभव (1986 )

पद्मिनी कोल्हापुरी के विवाद (Padmini Kolhapure Controversy )

पद्मिनी कोल्हापुरी ने 1980 में बहुत सुर्खियां बटोरीं, जब प्रिंस चार्ल्स अपने शाही दौरे के लिए भारत आए, और 15 वर्षीय अभिनेत्री ने उनके गालों पर एक गर्मजोशी से चुंबन के साथ उनका स्वागत किया।

प्रिंस चार्ल्स को किस करते हुए  पद्मिनी  कोल्हापुरी
प्रिंस चार्ल्स को किस करते हुए पद्मिनी कोल्हापुरी

जब चार्ल्स भारत पधारे तो उनका स्वागत पद्मिनी ने किया था और उनके गले में माला डालकर उनके गाल पर किस किया। रिपोर्ट्स की मानें तो प्रिंस चार्ल्स भी एक्ट्रेस के हावभाव से हैरान थे। यह उस समय काफी चर्चा का विषय बन गया था और किस को अभी भी सिनेमा के इतिहास में सबसे विवादास्पद लोगों में से एक माना जाता है। 

पद्मिनी कोल्हापुरी की पसंद और नापसंद

पसंदीदा अभिनेता (Favorite Actor )ऋषि कपूर, रणबीर कपूर
पसंदीदा अभिनेत्री (Favorite Actress )श्रीदेवी, दीपिका पादुकोण
पसंदीदा खाना (Favorite Food )राजमा चावल
पसंदीदा गायक Favorite Singer )किशोर कुमार, लता मंगेशकर

पद्मिनी कोल्हापुरी के के बारे में रोचक तथ्य (Interesting Fact )

  • 1981 में, 15 साल की उम्र में, उन्हें सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए अपना पहला फिल्मफेयर पुरस्कार मिला।
  • स्मृति ईरानी के शो छोड़ने के बाद उन्हें तुलसी विरानी की भूमिका निभाने के लिए टीवी धारावाहिक ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ के लिए चुना गया था। किन्हीं कारणों से यह रोल गौतमी कपूर के पास गया।
  • उन्हें एक दूजे के लिए, सिलसिला और राम तेरी गंगा मैली जैसी फिल्मों में काम करने की पेशकश की गई थी। लेकिन अपने बिजी शेड्यूल की वजह से वह इन हिट फिल्मों का हिस्सा नहीं बन पाईं।
  • उसने हैदराबाद और दिल्ली में अभिनय स्कूल और मुंबई में एक ग्रूमिंग और मॉडलिंग अकादमी खोली है।
  • वह “पद्मासीता” नाम से एक बुटीक की भी मालिक हैं।
  • वह शक्ति कपूर की साली और सिद्धांत कपूर और श्रद्धा कपूर की मौसी हैं।

पद्मिनी कोल्हापुरी के अवार्ड एवं पुरस्कार ( Padmini Kolhapure Awards )

  • 1981: इंसाफ का ताराजू के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का फिल्मफेयर पुरस्कार
  • 1982: अहिस्ता अहिस्ता के लिए फिल्मफेयर विशेष प्रदर्शन पुरस्कार
  • 1983: प्रेम रोग के लिए फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार
  • पद्मिनी कोल्हापुरे अपने फिल्मफेयर पुरस्कार के साथ
  • 2006 : चिमानी पाखारे के लिए स्क्रीन सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार

FAQ

पद्मिनी कोल्हापुरी शक्ति कपूर की क्या लगती है ?

पद्मिनी कोल्हापुरी शक्ति कपूर की साली लगती है।

पद्मिनी कोल्हापुरी के पिता का नाम क्या है?

पद्मिनी कोल्हापुरी के पिता का नाम पंधारिनाथ कोल्हापुरी है।

पद्मिनी कोल्हापुरी के कितने बच्चे हैं?

पद्मिनी कोल्हापुरी का एक लड़का है जिसका नाम प्रियांक प्रदीप शर्मा है।

यह भी जानें –

अंतिम कुछ शब्द –

दोस्तों मै आशा करता हूँ आपको “ पद्मिनी कोल्हापुरी का जीवन परिचय।Padmini Kolhapure Biography in hindi” वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हे तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आपसे एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद

283272931b5637e84fd56e27df3beb17?s=250&d=mm&r=g