वसीम रिज़वी का जीवन परिचय । Wasim Rizvi Biography In Hindi

वसीम रिज़वी का जीवन परिचय । Wasim Rizvi Biography in Hindi

वसीम रिज़वी का जीवन परिचय ,जीवनी , बायोग्राफी ,परिवार ,धर्म ,जाति ( Wasim Rizvi Biography In Hindi ,Wiki ,Family ,Religion , Age, Height, Caste )

कौन है वसीम रिज़वी (Who is Wasim Rizvi )

जितेंद्र नारायण त्यागी जिसे पहले वसीम रिज़वी के नाम से जाना जाता था , भारत के उत्तर प्रदेश के शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व सदस्य और अध्यक्ष थे ।

वसीम रिज़वी ने 6 दिसंबर 2021 को डासना मंदिर (गाजियाबाद) के मुख्य पुजारी, यति नरसिंहानंद गिरि महाराज की उपस्थिति में हिंदू धर्म में धर्मांतरण कराया ।

उन्हें भारत के सर्वोच्च न्यायालय में याचिका दायर करने के साथ-साथ बॉलीवुड फिल्म राम की जन्मभूमि के निर्माण के लिए जाना जाता है ।

वसीम रिज़वी का शुरूआती जीवन एवं परिवार (Early Life & Family )

वसीम रिज़वी के पिता एक रेलवे कर्मचारी थे। रिजवी 2000 में लखनऊ में ओल्ड सिटी के कश्मीरी मोहल्ला वार्ड से समाजवादी पार्टी (सपा) के नगरसेवक चुने गए और 2008 में शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य बने।

2012 में, वसीम रिज़वी को छह साल के लिए सपा से निष्कासित कर दिया गया था, जिसने उन पर धन के दुरुपयोग का आरोप लगाया था। रिजवी को बाद में अदालत से राहत मिली।

वसीम रिज़वी के विवाद (Controversy )

Screenshot 543
वसीम रिज़वी

जनवरी 2018 में, रिजवी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और भारत के प्रधान मंत्री को पत्र लिखकर मदरसों को खत्म करने की मांग की और कहा कि उनमें से कुछ मुसलमानों के लिए रोजगार सुनिश्चित करने के बजाय आतंकवादियों के लिए प्रजनन आधार के रूप में कार्य करते हैं।  

इसके जवाब में, बरेली स्थित एक धार्मिक संगठन ऑल इंडिया फैजान-ए-मदीना काउंसिल (एआईएफएमसी) ने 10,00,786 रुपये का इनाम और रिजवी का सिर काटने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए मुफ्त हज यात्रा की घोषणा की। 

सितंबर 2018 में, रिज़वी ने कहा कि भारत के मदरसों में समलैंगिकता प्रचलित थी ।

जनवरी 2020 में रिजवी ने कहा कि, “कुछ लोगों का मानना ​​है कि बच्चे का जन्म एक प्राकृतिक प्रक्रिया है और इसमें दखल नहीं देना चाहिए। जानवरों की तरह अधिक बच्चों को जन्म देना समाज और देश के लिए हानिकारक है। यह देश के लिए अच्छा होगा यदि एक कानून जनसंख्या नियंत्रण के लिए लागू किया गया है ।”

एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि उन्हें मुस्लिम कहलाना पसंद नहीं है, जो उनके लिए “क्रूर, जंगली जानवर” कहलाने जैसा था, उन्होंने कहा कि वह बहुत मुसलमान थे, लेकिन अगर वह उन्हें उस में रखते हैं तालिबान के समान श्रेणी में वह खुद को एक इंसान के रूप में पहचानना पसंद करेंगे । एक अन्य साक्षात्कार में, उन्होंने घोषणा की कि उन्होंने इस्लाम छोड़ दिया है।

वसीम रिजवी के कुछ प्रसिद्ध बयान

देश की नौ विवादित मस्जिदों को हिन्दुओं को सौंप दें मुसलमान।

हिन्दुस्तान की धरती पर कलंक की तरह है बाबरी ढांचा।

रिजवी ने कहा कि चांद तारे वाला हरा झंडा इस्लाम का धार्मिक झंडा नहीं है। ये पाकिस्तान की राजनैतिक पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग से मिलता जुलता है। इस झंडे को फहराने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। रिजवी ने यहां तक कह दिया कि पैगम्बर मोहम्मद साहब अपने कारवां में सफेद या काले रंग का झंडा प्रयोग करते थे।

इस्लामी मदरसों को बंद कर देना चाहिए क्योंकि ये आतंकवाद को बढ़ावा देते हैं। ये भारतीय मुसलमानों के लिए अच्छे नहीं हैं। ये मुसलमान नौजवानों के दिमाग में ज़हर घोलते हैं। बहुत मदरसों में आतंकी ट्रेनिंग दी जाती है। यहां आधुनिक शिक्षा नहीं दी जाती। मजहबी कट्टरता सिखाई जाती है।

जानवरों की तरह बच्चे पैदा करने से देश को नुकसान – जनवरी 2020 में जनसंख्या नियंत्रण पर संभावित कानून का समर्थन करते हुए वसीम रिजवी ने कहा, कुछ लोग मानते हैं कि बच्चों का जन्म प्राकृतिक है और इससे कोई छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए। लेकिन कई-कई बच्चों को जन्म देना समाज और देश के लिए काफी हानिकारक है। अगर देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाया जाता है तो यह बेतहाशा बढ़ती आबादी पर काबू पाने के लिए बेहतर होगा।

कुरान की 26 आयतों को हटाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में जनहित याचिका दी – मार्च 2021 में वसीम रिजवी ने कुरान की 26 आयतों को हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल की है। अपनी याचिका में वसीम रिजवी ने कहा है कि कुरान की इन आयतों से आतंकवाद को बढ़ावा मिलता है। वसीम रिजवी का कहना है कि मदरसों में बच्चों को कुरान की इन आयतों को पढ़ाया जा रहा है, जिससे उनका ज़हन कट्टरपंथ की ओर बढ़ रहा है। 

FAQ

कौन है वसीम रिजवी ?

जितेंद्र नारायण त्यागी जिसे पहले वसीम रिज़वी के नाम से जाना जाता था , भारत के उत्तर प्रदेश के शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व सदस्य और अध्यक्ष थे ।

वसीम रिजवी चर्चा में क्यों है ?

एक मुसलमान होते हुए उन्होंने अपना धर्म हिन्दू में बदल लिया और लगातार इस्लाम धर्म के खिलाफ बोले जाने से वो चर्चा का विषय बने हुए है।

यह भी पढ़े

अंतिम कुछ शब्द –

दोस्तों मै आशा करता हूँ आपको ”वसीम रिज़वी का जीवन परिचय । Wasim Rizvi Biography in Hindi ”वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हों तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आपसे एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद