सुशील कुमार का जीवन परिचय,मर्डर केस।Sushil Kumar Wrestler

सुशील कुमार का जीवन परिचय मर्डर केस।Sushil Kumar Wrestler Biography in Hindi

सुशील कुमार का जीवन परिचय, पहलवान, कुश्ती, सागर राणा मर्डर केस , ओलिंपिक, ताज़ा खबर, सागर मर्डर केस (Sushil Kumar Wrestler Biography In Hindi, Sushil Kumar Latest News In Hindi, ) (Olympic, Bjp, Medals, Awards, Wrestler Sushil Kumar Arrested. Height, Wife, Net worth)

पहलवान सुशील कुमार एक भारतीय फ्रीस्टाइल रेसलर है जिन्होंने साल 2008 के बीजिंग ओलम्पिक में कांस्य पदक एवं 2012 के लंदन ओलम्पिक में रजत पदक जीता था।

जिस तरह खाने के क्षेत्र में संजीव कपूर का नाम फेमस है उसी तरह फ्रीस्टाइल रेसलिंग में सुशील कुमार पहलवान का नाम बहुत प्रसिद्द है। फ्रीस्टाइल रेसलिंग मतलब सुशील कुमार पहलवान।

साल 2005 में अर्जुन पुरस्कार के अलावा इन्हे राजीव गाँधी एवं पद्म श्री अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। सुशील ने कई बार रेसलिंग की अलग अलग प्रतियोगिताओ में स्वर्ण पदक जीतकर भारत का नाम ऊंचा किया है.

4 मई 2021 को भारतीय फ्रीस्टाइल रेसलर सुशील ने एक 23 साल के जूनियर रेसलर सागर धनखड़ को किडनैप करके बाद में पीट पीट कर उसकी हत्या कर दी और हत्या के जुर्म में अभी दिल्ली पुलिस ने सुशील को गिरप्तार कर लिया है और उनके ऊपर सागर हत्याकांड का केस दर्ज़ कर लिया है।

सुशील कुमार

पहलवान सुशील कुमार का जीवन परिचय

Table of Contents

नाम ( Name)सुशील कुमार
पूरा नाम (Full Name)सुशील कुमार सोलंकी
जन्म (Birth)26 मई, 1983
उम्र (Age)38 साल (2021 में )
जन्म स्थान (Birth Place)नजफगढ़, दिल्ली, भारत
गृहनगर (Hometown)नजफगढ़, दिल्ली, भारत
शिक्षा (Education) ग्रेजुएट ,पोस्टग्रेजुएट
कॉलेज (College)चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ, उत्तर प्रदेश
नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन, दादरी
राष्ट्रीयता (Nationality)भारतीय
राशि (Zodiac Sig)मिथुन राशि
कद (Height)5 फुट 5 इंच
शारीरिक माप (Body Measurements)छाती: 44 इंच
कमर: 34 इंच
बाइसेप्स: 16 इंच
आंखों का रंग (Eye Colour)काला
बालों का रंग (Hair Colour)काला
पेशा (Profession)फ्रीस्टाइल पहलवान
कोच (Coach)महाबली सतपाल सिंह
शुरुआत (International Debut )अंतर्राष्ट्रीय- • 1998 में विश्व कैडेट खेल
2003 में नई दिल्ली में एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप
वैवाहिक स्थिति (Marital Status)विवाहित
शादी की तारीख (Marriage Date )18 फरवरी 2011

सुशील कुमार का मर्डर केस (wrestler Sushil Kumar murder case )

सुशील कुमार

दो बार ओलिंपिक में पदक जीतने वाले पहलवान सुशील कुमार को पुलिस ने सागर हत्याकांड के मामले में मुख्य आरोपी बताकर सुशील कुमार को गिरफ्तार कर लिया है मीडिया की रिपोर्ट के मुताबित 23 साल के जिस जूनियर रेसलर सागर धनखड़ और उसके दोस्त जो पहलवान सुशील के एक घर में किराये से रह रहे थे और यह मकान सुशील कुमार की बीबी के नाम पर था।

सागर का किडनैप करना

कुछ समय के बाद सागर और उसके दोस्तो ने मकान का किराया देना बंद कर दिया था और किराया ना मिलने पर सुशील ने सागर और उसके दोस्तों को मकान खाली करने के लिए बोल दिया लेकिन उसके बाद भी मकान खाली ना करने पर पहलवान सुशील कुमार ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर सागर और उसके दोस्तों को अगवा कर लिया।

सागर के साथ मार पीट

किडनैप करके सागर और उसके दोस्तों को छत्रसाल स्टेडियम ले जाया गया जहां पर सुशील कुमार और साथियो ने सागर को पीट पीट कर मार डाला और बताया जाता है की सुशील कुमार ने सागर और उसके दोस्तों को धमकाने के लिए आसमान में बंदूक से फायर भी किये थे।

सागर की मृत्यु –

स्टेडियम में मार पीट देख कर किसी ने इस घटना का वीडियो बनाया और पुलिस को खबर कर दी और पुलिस के आते सुशील और उसके दोस्त फरार हो गए वही सागर को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत्य घोषित कर दिया।

सुशील कुमार एवं अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी

23 साल के जिस जूनियर रेसलर सागर धनखड़ की हत्या करने के बाद सुशील कुमार और उसके दोस्त अजय कुमार, दोनों लंबे समय से फरार थे लेकिन कुछ समय के बाद दिल्ली पुलिस ने दोनों को मुंडका नाम की जगह से गिरप्तार कर लिया दोनों स्कूटी से कही जा रहे थे। पुलिस ने सुशील कुमार के दोस्त अजय के ऊपर 50000 रूपये का इनाम रखा था। सुशील कुमार को गिरप्तार करके पुलिस ने 14 दिन की हिरासत में लेकर तिहाड़ जेल में भेज दिया है.

सुशील कुमार के अलावा पुलिस ने 20 अन्य लोगो को आरोपी बताया और 15 लोगो को पुलिस ने गिरप्तार भी कर लिया और 5 लोग अभी भी फरार है। फरार 5 लोगो में से 3 इनामी बदमाश भी शामिल है।

सुशील कुमार का शुरूआती जीवन (Sushil Kumar Early Life )

सुशील कुमार का जन्म 26 मई,1983 को पिता दीवान सिंह एवं माँ कमला देवी के यहाँ नजफगढ़ के गाँव बापरोला में हुआ था। सुशील कुमार अपने तीन भाइयो में सबसे बड़े भाई है। इनके पिता दीवान सिंह एवं इनके चचेरे भाई संदीप भी पहलवान रह चुके है.

चचेरे भाई संदीप ने परिवार की माली हालत देखते हुए पहलवानी करना छोड़ दिया क्योकि सुशील कुमार भी पहलवान बनना चाहते थे और इनका परिवार सिर्फ एक ही व्यक्ति को पहलवान बना सकता था ।

14 साल की उम्र में इन्होने छत्रसाल स्टेडियम में इन्होने पहलवानी सीखी और ये अपनी मेहनत के दम पर फ्री स्टाइल रेसलर बने। इनके परिवार ने सुशील के खाने पीने का पूरा ध्यान दिया क्योकि सुशील एक शाकाहारी व्यक्ति है तो इनके घरवाले इनके लिए  डिब्बाबंद दूध, घी और ताजी सब्जियां जैसे पोषक से भरपूर खाने का पूरा ध्यान रखते थे.

सुशील कुमार का परिवार (wrestler sushil kumar Family)

सुशील कुमार
सुशील कुमार की पत्नी एवं दो बच्चे
पिता का नाम (Father’s Name)दीवान सिंह
माता का नाम (Mother’s Name)कमला देवी
भाई का नाम (Brother’s Name)अमरजीत सोलंकी, मंजीत सोलंकी, विशाल सिंह सोलंकी
पत्नी का नाम (Wife’s Name)सवी कुमार
बच्चो के नाम (Children’s Name )सुवर्ण और सुवीर

सुशील कुमार का करियर (wrestler sushil kumar Career )

सुशील कुमार

कम उम्र से ही सुशील ने छत्रसाल स्टेडियम के अखाड़े में पहलवान बनने की ट्रेनिंग लेनी शुरू कर दी थी। जहां पर इनको यशवीर और रामफल जैसे गुरुओ से पहलवानी की शिक्षा हासिल की उसके बाद उन्होंने अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित सतपाल के द्वारा ट्रेनिंग हासिल की। इसके अलावा इन्होने  ज्ञान सिंह और राजकुमार बैसला गुर्जर से भी भारतीय रेलवे शिविर में रहते हुए पहलवानी के दाव पेंच सीखे।

सुशील ने अपनी पहलवानी को फ्रीस्टाइल कुश्ती में बदल लिया था और इसी फ्रीस्टाइल कुश्ती के साथ इन्होने साल 1998 विश्व कैडेट खेलों में हिस्सा लिया और स्वर्ण पदक हासिल किया।

साल 2000 में अपना बेहतरीन प्रदर्शन जारी रखते हुए इन्होने एशियाई जूनियर कुश्ती चैम्पियनशिप में भी स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

साल 2003 में इन्होने जूनियर प्रतियोगिताओ में हिस्सा लेना बंद कर दिया और एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप जैसी प्रतियोगिताओ में भाग लेना शुरू किया जहा पर इन्होने कांस्य पदक जीता और राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में भाग लेते हुए स्वर्ण पदक जीता।

साल 2004 में इन्हे ओलम्पिक में भाग लेने का मौका मिला लेकिन अपने लचर प्रदर्शन से 60 किग्रा वर्ग में चौदहवे नंबर पर रहे.साल 2005 एवं 2007 में आयोजित हुए राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में एक बार फिर जबरदस्त प्रदर्शन किया और स्वर्ण पदक जीता।

साल 2008 में चीन के शहर बीजिंग में आयोजित हुए ओलम्पिक में इन्होने कांस्य पदक अपने नाम किया। और साल 2012 के लंदन ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक खेलो में इन्होने रजत पदक जीता। ओलम्पिक खेलो में दो पदक जीतने वाले ये पहले भारतीय बन गए.

यह भी जानें –

सुशील कुमार को प्राप्त सम्मान (Sushil kumar awards & Rewards)

सुशील कुमार
  • साल 2005 में इनके रेसलिंग में जबरदस्त प्रदर्शन के लिए भारत सरकार की तरफ से अर्जुन पुरस्कार दिया गया।
  • साल 2008 में सुशील को भारत का सबसे ऊंचा खेल पुरस्कार ,राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार प्राप्त हुआ
  • बीजिंग ओलम्पिक में रजत पदक जीतने के लिए साल 2011 में भारत का चौथा सबसे बड़ा पुरस्कार पद्मश्री से सम्मानित

2008 बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक के लिए पुरस्कार

  • रेल मंत्रालय द्वारा अस्सिस्टेंट कमर्शियल मेनेजर का पद एवं ₹ 50 लाख रूपये का पुरस्कार
  • दिल्ली सरकार की ओर से 50 लाख रूपये का पुरस्कार
  • हरियाणा सरकार की ओर से 25 लाख रूपये का पुरस्कार
  • इस्पात मंत्रालय की तरफ से 25 लाख रूपये का पुरस्कार
  • आरके ग्लोबल द्वारा 5 लाख रूपये का इनाम
  • महाराष्ट्र सरकार द्वारा 10 लाख रूपये का इनाम
  • MTNL द्वारा 10 लाख रूपये का इनाम

2010 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने के लिए पुरस्कार

  • भारत सरकार की ओर से 10 लाख रुपयों का इनाम
  • दिल्ली सरकार की ओर से 10 लाख रूपये का पुरस्कार
  • रेल मंत्रालय द्वारा 10 लाख रुपयों का इनाम

2012 लंदन ओलंपिक में रजत पदक जीतने के लिए पुरस्कार

सुशील कुमार
2 करोड़ रुपयों के चेक के साथ
  • दिल्ली सरकार की ओर से 2 करोड़ रूपये का पुरस्कार
  • हरियाणा सरकार की ओर सोनीपत में कुश्ती अकादमी के लिए ज़मीन
  • हरियाणा सरकार की ओर से 1.5 करोड़ रुपयों का पुरस्कार
  • भारतीय रेलवे की तरफ से 7.5 लाख रुपयों का इनाम
  • ओएनजीसी की ओर से 10 लाख रुपयों का इनाम

सुशील कुमार  के रिकार्ड्स Sushil kumar Records )-

सालप्रतियोगिता का नामआयोजित स्थानपदक
2003एशियाई चैंपियनशिपनई दिल्लीकांस्य
2003 राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिपलंदनस्वर्ण
2005राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिप केप टाउन स्वर्ण
2006एशियाई खेलदोहाकांस्य
2007एशियाई चैंपियनशिपबिश्केकोरजत
2007 राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिप लंदन स्वर्ण
2008एशियाई चैंपियनशिप जाजू द्वीपस्वर्ण
2008ओलम्पिक खेलबीजिंगकांस्य
2009राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिपजालंधर स्वर्ण
2010एशियाई चैंपियनशिपनई दिल्ली स्वर्ण
2010 विश्व चैंपियनशिपमास्कोस्वर्ण
2010 राष्ट्रमंडल खेलदिल्लीस्वर्ण
2012ओलम्पिक खेल लंदन रजत
2014राष्ट्रमंडल खेलग्लासगोस्वर्ण
2017राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिपजोहान्सबर्गस्वर्ण
2018राष्ट्रमंडल खेलगोल्ड कोस्ट स्वर्ण

सुशील कुमार के विवाद ( Sushil kumar Controversies)

  • 2012 में छत्रसाल स्टेडियम ,कोचिंग पहलवानों और नए सीखने वालों के लिए भारत का प्रीमियम केंद्र था। हालांकि, सुशील कुमार और योगेश्वर दत्त के बीच सार्वजनिक मतभेद के बाद, योगेश्वर दत्त ने कुश्ती केंद्र छोड़ने और अपना खुद का कोचिंग सेंटर शुरू करने का फैसला किया। 2015 तक, बजरंग पुनिया जैसे कई शीर्ष पहलवानों ने अकादमी छोड़ दी और योगेश्वर दत्त की अकादमी में शामिल हो गए।
  • अंतरराष्ट्रीय पहलवान प्रवीण राणा ने सुशील कुमार के ऊपर आरोप लगाया कि सुशील कुमार ने 2017 में राष्ट्रीय ट्रायल के चयन दौर के बाद उन्हें और उनके भाई को पीटा था।

सुशील कुमार सोशल मीडिया अकाउंट्स

Sushil kumar  Instagramयहाँ क्लिक करें
Sushil kumar  Facebookमौजुद नहीं
Sushil kumar  Twitterयहाँ क्लिक करें

सुशील कुमार की कुल संपत्ति ( Sushil kumar Net Worth)

कुल संपत्ति (Net Worth 2021)$ 5 मिलियन
कुल संपत्ति रुपयों में (Net Worth In Indian Rupees)36 करोड़ रुपये
मासिक आय और वेतन (Monthly Income And Salary)30 लाख रूपये लगभग
वार्षिक आमदनी (yearly Income)4 करोड़ लगभग

FAQ

सुशील कुमार का कौन है ?

सुशील कुमार एक भारतीय फ्रीस्टाइल रेसलर है

सुशील कुमार का सरनेम क्या है ?

सुशील कुमार का पूरा नाम सुशील कुमार सोलंकी है

सुशील कुमार पहलवान की संपत्ति कितनी है ?

सुशील कुमार पहलवान 36 करोड़ रुपयों की सम्पति के मालिक है.

पहलवान सुशील कुमार की पत्नी कौन है?

सुशील कुमार की पत्नी का नाम सवी कुमार है जो सुशील कुमार के गुरु सतपाल की पुत्री है

सुशील कुमार के गुरु का क्या नाम था ?

सतपाल सिंह

  • यह भी जानें :-

अंतिम कुछ शब्द –

दोस्तों मै आशा करता हूँ आपको ”सुशील कुमार का जीवन परिचय,मर्डर केस।Sushil Kumar Wrestler Biography in Hindi”वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हे तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आपसे एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद

283272931b5637e84fd56e27df3beb17?s=250&d=mm&r=g