अली अकबर (डायरेक्टर ) का जीवन परिचय। Ali Akbar Biography In

अली अकबर (डायरेक्टर ) का जीवन परिचय। Ali Akbar Biography in Hindi

अली अकबर (डायरेक्टर ) का जीवन परिचय ,जीवनी , बायोग्राफी ,परिवार ,धर्म ,जाति ( Ali Akbar Director  Biography In Hindi ,Wiki ,Family ,Religion , Age, Height, Caste ,Controversy  )

अली अकबर  एक ऐसे वयक्ति है जिनका मानना है इंसान के चरित्र की पहचान उसके धर्म से नहीं कर्म से होनी चाहिए। अब बात आती है की वे ऐसा क्यों कह रहे है दरअसल 09 दिसंबर 2021 को भारत माता के सपूत एवं भारतीय सेना के फोर स्टार जनरल बिपिन रावत जी के अकस्मात हेलीकाप्टर दुर्घटना में निधन के कारण कुछ लोगो ने जश्न मनाया था जिससे अली अकबर का दिल टूट गया।

अब बात आती है की वह इस बात पर अपना धर्म इस्लाम से हिन्दू में और अपना नाम अली अकबर से रामसिंहा में क्यों बदल रहे है ?तो आईये जानते है सबसे पहले की अली अकबर कौन है और ऐसी क्या घटना घट गयी जिसने उन्हें अपना नाम और धर्म बदलने पर मजबूर कर दिया।

ali akbar 1
अली अकबर (डायरेक्टर )

अली अकबर (डायरेक्टर ) का जीवन परिचय

नाम (Name)अली अकबर
नया हिन्दू नाम ( Hindu Name )रामसिंहा
प्रसिद्द (Famous For ) इस्लाम से हिन्दू में बदलना
जन्मदिन (Birthday)20 फरवरी 1963
उम्र (Age )58 साल (साल 2021 में )
जन्म स्थान (Birth Place)मीनांगडी , वायनाड , केरल 
स्कूल (School )ज्ञात नहीं
नागरिकता (Citizenship)भारतीय
गृह नगर (Hometown)वायनाड , केरल , भारत
धर्म (Religion)इस्लाम से हिन्दू धर्म में परिवर्तन
लम्बाई (Height)5 फीट 8 इंच
आंखो का रंग (Eye Colour)काला
बालों का रंग (Hair Colour)काला
शौक (Hobbies )गायकी एवं लिखना
पेशा (Profession) निर्देशक ,पटकथा लेखक , राजनीतिज्ञ एवं गीतकार
शुरुआत (Debut )निर्देशक -फिल्म पप्पू (1988 ) ,मलयालम फिल्म
पार्टी का नाम (Party )भारतीय जनता पार्टी
वैवाहिक स्थिति Marital Statusविवाहित

कौन है अली अकबर (Who is ali akbar ) ?

अली अकबर भारत के एक मलयाली पटकथा लेखक, निर्देशक और गीतकार हैं। जो मलयालम सिनेमा में अपने काम के लिए जाने जाते हैं।  वह 20 से अधिक मलयालम फिल्मों के निर्देशक रहे हैं। उनकी प्रसिद्ध फिल्मो में कुडुम्बा वर्थकल, पाई ब्रदर्स और जूनियर मैंड्रेक शामिल हैं।

अली अकबर ने फिल्मों के अलावा राजनीति के क्षेत्र में भी अपनी अलग पहचान बनाने की कोशिश की। 2014 में, उन्होंने वाटकारा निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव के लिए आप का प्रतिनिधित्व किया। हारने पर उन्होंने एक बार फिर भाजपा के बैनर तले कोझीकोड निगम चुनाव के दौरान इसे मौका दिया।

अली अकबर का जन्म एवं शुरुआती जीवन (Birth & Early Life )

अली अकबर का जन्म 20 फरवरी 1963 को केरला के  वायनाड जिले के मीनांगडी शहर में हुआ था। उनकी पत्नी का नाम लुसियाम्मा है।

अली अकबर का फिल्म निर्देशक के रूप में शुरुआत एवं सघर्ष (Career Debut )

उनकी पहली फिल्म वर्ष 1988 से मामलकल्लप्पुरथ पप्पू थी। उन्होंने सीनियर मैंड्रेक और बैंबू बॉयज़ जैसी फिल्मों के लिए गीतकार के रूप में भी हाथ आजमाया है ।

अली अकबर का राजनितिक करियर (Political Career )

राजनीति में उनका करियर अल्पकालिक था। भले ही उन्होंने दोनों बार अलग-अलग निर्वाचन क्षेत्रों से चुनाव लड़ा, फिर भी वे निर्वाचित होने का प्रबंधन नहीं कर पाए। भीड़ के चहेते होने के बावजूद उनका सपना पूरा नहीं हुआ।

अली अकबर के साल 2010 की घटना

download 2
अली अकबर फिल्म निर्देशित करते हुए

साल 2010 में उन्होंने विवादित किंग थिलाकन के साथ शूटिंग शुरू की। इस फ्लिक का नाम आचन था। निर्णय एक बहुत ही साहसिक कदम था, और इसे कड़ी प्रतिक्रियाएं मिलीं। 

इस फैसले का विरोध करने आए बदमाशों ने उनकी कार पर पथराव कर दिया। वह इस अनुभव से अचंभित रहता था। लोगों के विरोध ने उन्हें आगे बढ़ने और थिलकन के साथ फिल्म बनाने से नहीं रोका। 

फिर भी, वह स्वीकार करते है कि यह एक कष्टदायक अनुभव था और इसने उसे डरा दिया। उन्होंने कहा कि उन्हें अचानक पता चला कि लोग उनकी आवाज सुनने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

अली अकबर क्यों बदल रहे है अपना नाम ?

download 1
बिपिन रावत के निधन पर हसीं उड़ाए जाने पर दुखी है अली अकबर

फिल्म निर्माता अली अकबर (Ali Akbar) ने अपनी पत्नी के साथ इस्लाम धर्म को त्याग कर हिंदू धर्म अपनाने का निर्णय लिया है . उन्होंने एक बयान में कहा की वे जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) के निधन का अपमान करने वालों के कारण अपने धर्म इस्लाम को त्याग रहे हैं.

कई अज्ञात लोगों ने जनरल बिपिन रावत के निधन से जुड़ी एक ऑनलाइन पोस्ट पर ‘स्माइली इमोटिकॉन’ का इस्तेमाल किया था. 09 दिसंबर 2021 को तमिलनाडु के कुनूर जिले में हुए एक हेलीकाप्टर हादसे में सेना के अधिकारी समेत 13 लोगों की मृत्यु हो गई थी.

एक रिपोर्ट्स के अनुसार , अली अकबर का कहना है कि इस्लाम के सभी टॉप नेताओं ने भी बिपिन रावत के निधन की हसीं उड़ाए जाने वालो के खिलाफ कोई विरोध क्यों नहीं किया.

उन्होंने बताया कि वे यह बात उनके गले से नहीं उतर रही है की कैसे इस्लाम के धर्मगुरु इस बात पर चुप बैठे है . अकबर ने कहा है कि उनका इस्लाम धर्म के ऊपर से विश्वास खत्म हो गया है. उन्होंने बुधवार 09 दिसंबर को इस घटना को लेकर एक वीडियो फेसबुक पर भी शेयर किया था.

अली अकबर ने एक विडियो में कहा था,

 ‘आज मैं जन्म से मिले हुए पहनावे को उतार फेंक रहा हूं. आज से मैं मुस्लिम नहीं हूं, मैं एक भारतीय हूं. मेरा यह जवाब उन लोगों के लिए हैं, जिन्होंने भारत के खिलाफ हजारों स्माइलिंग इमोटिकॉन्स पोस्ट किए हैं.’

 कई मुस्लिम यूजर्स ने उनकी इस पोस्ट का विरोध किया और उन्हें अपशब्द कहे. हालांकि, कई यूजर्स उनके समर्थन में भी आए. कुछ समय बाद फेसबुक से यह पोस्ट गायब हो गई थी.

एक अन्य पोस्ट में अकबर ने लिखा,

 ‘देश को उन लोगों की पहचान करनी चाहिए और सजा देनी चाहिए, जो सीडीएस की मौत पर हंस रहे हैं.’ टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में अकबर ने कहा कि सोशल मीडिया पर कई राष्ट्र विरोधी गतिविधियां होती हैं औऱ रावत की मौत पर हंसना इसका ताजा उदाहरण है. उन्होंने कहा, ‘ज्यादातर लोग जो स्माइलिंग इमोटिकॉन्स के साथ कमेंट कर रहे हैं और रावत की मौत की खबर पर जश्न मना रहे हैं, वे मुस्लिम हैं.’

उन्होंने आगे कहा,

 ‘उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि रावत ने पाकिस्तान और कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ कई कार्रवाई की. इन पोस्ट को देखने के बावजूद, जिनमें बहादुर सैन्य अधिकारी और देश का अपमान किया गया, किसी भी शीर्ष मुस्लिम नेता ने प्रतिक्रिया नहीं दी. मैं ऐसे धर्म का हिस्सा नहीं हो सकता.’

अली अकबर ने बताया, क्या होगा उनका नया नाम

09 दिसंबर 2021 को अली अकबर ने कहा कि उनका मुस्लिम धर्म से विश्वास उठ गया है. इसलिए अब वो और उनकी पत्नी Lucyamma हिंदू बनने के लिए तैयार हैं. अली अकबर नेअपना नया नाम भी सलेक्ट कर लिया है.

वे अब अपना नाम अली अबकर से बदलकर Ramasimhan रखेंगे . उन्होंने आगे बताया कि Ramasimhan वह इंसान था जो इसलिए मारा गया क्योंकि वो अपने धर्म के लिए खड़ा रहा. अली अकबर के अनुसार Ramasimhan नाम उनके लिए एक दम सही है।

उन्होंने बताया कि वह अपनी बेटियों को इस्लाम धर्म बदलने के लिए कोई फोर्स नहीं करेंगे और वह इसे अपनी बेटिओ की पसंद पर छोड़ते है . अली अकबर पहले भारतीय जनता पार्टी की राज्य कमेटी के मेंबर थे. बाद में उन्होंने पार्टी लीडरशिप के साथ अहसमति होने के बाद उन्होंने अपनी पोस्ट से इस्तीफा दे दिया था.

अली अकबर के विवाद (Ali Akbar Controversy )

  • साल 2015 में, अकबर ने कहा कि वह बचपन में जब वह मात्र आठ साल के थे तब वह बाल यौन शोषण का शिकार हुए थे,तब वायनाड के मीनांगडी में उसके मदरसे में एक उस्ताद (शिक्षक) द्वारा उसके साथ दुर्व्यवहार किया गया था।
  • साल 2021 में, अली अकबर ने हिंदू धर्म में परिवर्तित होने की अपनी योजना की घोषणा की और अपना नाम अली अकबर से बदलकर नरसिंहा रखने का एलान किया।

गीतकार एवं लेखक के रूप में अली अकबर की फिल्मे (Ali Akbar Movies )

  1. मामलकलक्कप्पुरथी (1988 )
  2. मुखमुद्रा (1992 )
  3. पोन्नुचामी (1993 )
  4. पाई ब्रदर्स (1995 )
  5. नियर मँड्रेक (1997 )
  6. बम्बू बॉयज (2002 )
  7. सीनियर मँड्रेक (2010 )
  8. अचन ( 2011 )
  9. आइडियल कपल ( 2012 )
  10. 1921: पूझा मुथल पूझा वरे (2021 )

अली अकबर के पुरस्कार ( Ali Akbar Awards )

  • 1988 – सर्वश्रेष्ठ नवोदित निर्देशक फिल्म मामलकलक्कप्पुरथ के लिए केरल राज्य फिल्म पुरस्कार
  • 1996 – सर्वश्रेष्ठ शैक्षिक/प्रेरक/निर्देशात्मक फिल्म – राबिया चालिक्कुन्नू के लिए 44वां नेशनल फिल्म अवार्ड्स

FAQ

अली अकबर कौन है ?

अली अकबर भारत के एक मलयाली पटकथा लेखक, निर्देशक और गीतकार हैं। जो मलयालम सिनेमा में अपने काम के लिए जाने जाते हैं।

अली अकबर का नया नाम क्या है ?

अली अकबर का नया नाम नरसिंहा है।

अली अकबर का धर्म क्या है ?

अली अकबर का धर्म इस्लाम था लेकिन उन्होंने अपना धर्म हिन्दू में परिवर्तित करने का एलान किया था।

यह भी पढ़े :-

अंतिम कुछ शब्द 

दोस्तों मैं आशा करता हूँ आपको ”अली अकबर (डायरेक्टर ) का जीवन परिचय। Ali Akbar Biography in Hindidi”वाला Blog पसंद आया होगा अगर आपको मेरा ये Blog पसंद आया हो तो अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे लोगो को भी इसकी जानकारी दे

अगर आपकी कोई प्रतिकिर्याएँ हे तो हमे जरूर बताये Contact Us में जाकर आप मुझे ईमेल कर सकते है या मुझे सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है जल्दी ही आप एक नए ब्लॉग के साथ मुलाकात होगी तब तक के लिए मेरे ब्लॉग पर बने रहने के लिए ”धन्यवाद

283272931b5637e84fd56e27df3beb17?s=250&d=mm&r=g
x